News Nation Logo

ललितपुर: प्रेम प्रसंग के चलते 5 लाख रुपये की सुपारी देकर पूर्व सभासद ने कराई थी पत्नी की हत्या

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 17 Sep 2022, 01:55:34 PM
LalitPur

LalitPur (Photo Credit: सांकेतिक ​तस्वीर)

नई दिल्ली:  

दो दिन पूर्व मोहल्ला घुसयाना निवासी पूर्व सभासद की पत्नी रश्मि यादव की मौत के रहस्य से पुलिस ने पर्दा हटा दिया है। सभासद ने अपने चालक को पांच लाख रुपये देकर अपनी पत्नी की हत्या कराई थी। हत्या का कारण पूर्व सभासद का फॉरेस्ट गार्ड महिलाकर्मी के साथ चल रहे प्रेम प्रसंग के चलते आए दिन हो रहे झगड़ा से छुटकारा पाना बताया गया। पुलिस ने हत्यारोपी व हत्या का षड़यंत्र रचने वाले पूर्व सभासद और उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बताते चले कि 14 सितंबर को शहर के मोहल्ला घुसयाना निवासी पूर्व सभासद सुरेंद्र सिंह उर्फ भैया यादव की 40 वर्षीय पत्नी रश्मि यादव का शव घर के अंदर कमरे में संदिग्ध परिस्थिति में फांसी के फंदे पर लटका मिला था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रश्मि की मौत फांसी से न होकर गला घोंटने से होना पाया गया था। पुलिस ने मृतका के पिता चंद्रपाल सिंह यादव पुत्र हरदास निवासी चंदवारा दिनारा शिवपुरी मध्य प्रदेश की तहरीर पर सुरेंद्र सिंह यादव उर्फ भैया यादव निवासी घुसयाना, अनामिका राजपूत पुत्री कल्यान सिंह निवासी सीरोंन कलां और दो अज्ञात पर हत्या व साक्ष्य मिटाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया था।

पुलिस अधीक्षक गोपाल कृष्ण चौधरी ने कोतवाली प्रभारी निरीक्षक संतोष सिंह को इस हत्याकांड का खुलासा करने का आदेश दिया। इसके बाद पुलिस ने घटना के समय से ही संदिग्ध चल रहे पूर्व सभासद के कार चालक राशिद को हिरासत में लिया और पूछताछ शुरू की। पूछताछ में राशिद ने पुलिस को जो कुछ भी बताया उसे सुनकर पुलिस के होश उड़ गए। उसने बताया कि रश्मि की हत्या उसके पति पूर्व सभासद सुरेंद्र सिंह यादव उर्फ भैया यादव ने कराई थी। उसे रश्मि की हत्या करने के लिए सुरेंद्र यादव ने पांच लाख रुपये की सुपारी दी थी। इसके बाद उसने रश्मि की 14 सितंबर की शाम को उस समय रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी थी। इसके बाद पूर्व सभासद सुरेंद्र सिंह यादव उर्फ भैया यादव व उसकी प्रेमिका अनामिका राजपूत पुत्री कल्यान सिंह राजपूत निवासी ग्राम सीरोंन कलां थाना जखौरा को पुलिस ने शुक्रवार को मुखबिर की सूचना पर पिसनारी तिराहा से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया।
प्रेम प्रसंग में रश्मि बन रही थी बाधा, हो रही थी घर में कलह
पुलिस हिरासत में राशिद ने बताया कि सुरेंद्र सिंह यादव उर्फ भैया यादव का करीब दो वर्ष से फॉरेस्ट गार्ड पद पर जनपद में तैनात अनामिका राजपूत से प्रेम प्रसंग चल रहा था। अपने पति के इस प्रेम प्रसंग की जानकारी रश्मि को हो गई थी। जिस कारण रश्मि का अपने पति के साथ आए दिन झगड़ा होता था। इसी झगड़े से छुटकारा पाने और अपनी प्रेमिका के साथ रहने की लालसा के चलते सुरेंद्र सिंह ने सुपारी देकर अपनी पत्नी की हत्या करवा दी। वहीं पुलिस ने बताया कि सुरेंद्र सिंह ने अपनी प्रेमिका अनामिका से एक वर्ष पूर्व कोर्ट मैरिज कर ली थी।

बहन न आती तो एक सप्ताह पूर्व ही कर चुका होता रश्मि की हत्या...
हत्यारोपी राशिद ने बताया कि सुरेंद्र सिंह ने कुछ दिन पूर्व ही उसे रश्मि की हत्या की सुपारी दी थी। जिसके चलते उसने करीब आठ दिन पूर्व रश्मि की हत्या करने का प्रयास किया था। इससे पहले कि वह अपनी योजना में सफल हो पाता रश्मि की बहन घर आ गई। जिस कारण उसकी योजना पर पानी फिर गया।


ऐसे दिया हत्या की वारदात को अंजाम...
रश्मि यादव की 15 वर्षीय पुत्री 14 सितंबर की दोपहर करीब तीन बजे कोचिंग को चली गई थी। वह घर पर अकेली मौजूद थी। इस दौरान पूर्व सभासद की कार का चालक राशिद घर पहुंचा। यहां राशिद ने मौका पाकर रश्मि का रस्सी से गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया। हत्या को आत्महत्या दर्शाने के लिए राशिद ने रश्मि के शव को साड़ी के फंदे से छत के कुंदे पर लटका दिया था। इसके बाद वह करीब पांच बजे कोचिंग गई रश्मि की पुत्री को लेने के लिए चला गया था। कोचिंग से जब रश्मि की पुत्री घर पहुंची और कमरे में दाखिल हुई तो यहां उसे अपनी मां फांसी के फंदे पर मृतावस्था में लटकी मिली थी। इस पर राशिद ने तय योजना के अनुसार रश्मि के पति पूर्व सभासद सुरेंद्र सिंह को जानकारी दी थी। सुरेंद्र सिंह व राशिद अन्य लोगों के साथ रश्मि को फांसी के फंदे से नीचे उतारकर जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां चिकित्सकों ने रश्मि को मृत घोषित कर दिया था।

सभासद ने चालक पर लगाया था हत्या करने का आरोप...
पूर्व सभासद सुरेंद्र सिंह उर्फ भैया यादव की पत्नी रश्मि यादव की रहस्मय मौत होने के बाद सुरेंद्र सिंह बृहस्पतिवार को कोतवाली पहुंचा और उसने अपने चालक राशिद पर पत्नी की हत्या और घर में रखे पांच से आठ लाख रुपये लूटने का आरोप लगाते हुए शिकायती पत्र दिया था। जिसकी जांच कराने का आश्वासन दिया था। इसके बाद पुलिस ने अपनी जांच में और तेजी ला दी।

बाइट:- गोपाल कृष्ण चौधरी_SP
वहीं इस पूरे मामले का पुलिस अधीक्षक गोपाल कृष्ण चौधरी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रश्मि की गला घोंटकर हत्या करने की पुष्टि हुई थी। जिस पर मृतका के पिता की तहरीर पर कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया था। जांच में मृतका के पति, प्रेमिका व चालक की भूमिका पाई गई। तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

First Published : 17 Sep 2022, 01:55:34 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.