News Nation Logo
Banner

कमलेश तिवारी हत्याकांड में बड़ा खुलासा, ISIS आतंकियों के निशाने पर थे हिंदू समाज पार्टी के नेता

लखनऊ में बेखौफ बदमाशों ने हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) की गला रेत कर हत्या कर दी. इस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है.

By : Deepak Pandey | Updated on: 18 Oct 2019, 11:46:39 PM
कमलेश तिवारी

कमलेश तिवारी (Photo Credit: (फाइल फोटो))

नई दिल्ली:

लखनऊ में बेखौफ बदमाशों ने हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) की गला रेत कर हत्या कर दी. इस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, कमलेश तिवारी आईएसआईएस (ISIS) के आतंकियों के निशाने पर भी थे. 2017 में गुजरात एटीएस ने आईएसआई के उबैद मिर्जा और कासिम को गिरफ्तार किया था. गुजरात एटीएस के साथ सेंट्रल एजेंसी ने भी आतंकियों से पूछताछ की थी. इस दौरान दोनों आतंकियों ने कमलेश तिवारी का नाम लिया था.

यह भी पढ़ेंः राहुल गांधी बोले- मोदी को नहीं है अर्थशास्त्र की समझ, 2004 से 2014 तक इसलिए तेजी से बढ़ी अर्थव्यवस्था

उबैद मिर्जा और कासिम को उनके हैंडलर ने वीडियो दिखाकर कमलेश तिवारी को मारने के लिए कहा था. बता दें कि गुजरात एटीएस ने चार्जशीट दाखिल की थी, जिसमें कमलेश तिवारी की हत्या की साजिश के बारे में भी खुलासा किया गया था. गुजरात एटीएस के पास कमलेश तिवारी से संबंधित आतंकियों की चैटिंग और सबूत भी मौजूद हैं. गुजरात एटीएस ने आतंकियों से पूछताछ में कमलेश तिवारी को लेकर हुए खुलासे की जानकारी सेंट्रल एजेंसी को भी दी थी.

बताया जा रहा है कि भगवा कपड़े पहने हमलावर मिठाई के डिब्बे में चाकू, कट्टा लेकर आए लखनऊ के खुर्शीद बाग इलाके में स्थित कमलेश तिवारी के दफ्तर में मिलने आए थे. पुलिस जांच में पता चला कि कमलेश तिवारी हत्याकांड में इस्तेमाल मिठाई का डिब्बा 16 अक्टूबर को सूरत की मिठाई के दुकान से खरीदा गया था. पुलिस मामले में आतंकी कनेक्शन की जांच में जुटी है.

यह भी पढ़ेंः PMC बैंक Scam: ED को मिली 22 अक्टूबर तक राकेश और सारंग वाधवान की कस्टडी

पुलिस जांच में पता चला है कि कमलेश तिवारी के नौकर स्वराष्ट्रजीत सिंह ने मीडिया से बातचीत में बताया कि हमलावरों ने आने से पहले 10 मिनट तक कमलेश तिवारी से फोन पर बात की. उसके बाद जब हमलावर दफ्तर में आए तो उस वक्त सिक्योरिटी गार्ड सोया हुआ था. इससे दोनों शख्स सीधे कमलेश तिवारी से मिलने पहुंचे. कमलेश तिवारी से उन्होंने करीब आधे घंटे बात की.

इसके बाद हमलावरों ने मिठाई का डब्बा खोला और गर्दन रेतकर उनकी हत्या कर दी. हमलावरों की पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई. सीसीटीवी कैमरे में कैद वारदात के मुताबिक हमलावरों ने कमलेश तिवारी की ठोड़ी और सीने में चाकू से 15 से ज्यादा हमला किए हैं.

First Published : 18 Oct 2019, 07:42:24 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×