News Nation Logo
कोविड के खिलाफ लड़ाई में भी भारत और रूस के बीच सहयोग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में 85 फीसदी पात्र आबादी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है: मनसुख मंडाविया दिल्ली में इस साल डेंगू से अब तक 15 मरीजों की मौत बीते 6 साल में डेंगू से मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा शाही ईदगाह मस्जिद की जगह पर भव्य श्रीकृष्ण मंदिर के निर्माण के लिए संकल्प यज्ञ किया गया ओमिक्रोन के अलर्ट के बीच पटना में 100 विदेशियों की तलाश भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की

जापानी इंसेफेलाइटिस खत्म होने की कगार पर: योगी आदित्यनाथ

पूर्वी उत्तर प्रदेश में जापानी इंसेफेलाइटिस (जेई) ने कई सालों तक सैकड़ों लोगों की जान ली. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के मुताबिक, अब यह बीमारी पूरी तरह खत्म होने की कगार पर है.

IANS | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 01 Sep 2020, 08:09:14 PM
Yogi Adityanath

योगी आदित्यनाथ। (Photo Credit: फाइल फोटो)

गोरखपुर:

पूर्वी उत्तर प्रदेश में जापानी इंसेफेलाइटिस (जेई) ने कई सालों तक सैकड़ों लोगों की जान ली. मुख्यमंत्री के मुताबिक, अब यह बीमारी पूरी तरह खत्म होने की कगार पर है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पिछले 40 साल से कहर बरपा रही इंसेफेलाइटिस को अगले दो सालों में पूरी तरह खत्म कर दिया जाएगा.

गोरखपुर की अपनी हालिया यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से कहा कि राज्य के पूर्वी हिस्से में इंसेफेलाइटिस की मृत्यु दर 2016 के बाद 95 प्रतिशत तक गिर गई है. उन्होंने कहा, "इंसेफेलाइटिस के खिलाफ लड़ाई अब अंतिम चरण में है. दो साल में इसे इस क्षेत्र से खत्म कर दिया जाएगा. हम कोविड -19 के खिलाफ भी ऐसी ही लड़ाई लड़ेंगे."

उन्होंने गोरखपुर, कुशीनगर, महराजगंज और देवरिया के इंसेफेलाइटिस के पिछले चार सालों के आंकड़े पेश किए, जिनमें मामलों की संख्या और मृत्यु दर में भारी गिरावट देखी गई.

गौरतलब है कि अगस्त 2017 में गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में तीन दिनों में 60 बच्चों की मौत हो गई थी. इसके पीछे कथित तौर पर ऑक्सीजन की आपूर्ति में व्यवधान होने के कारण बताया गया था और इसे लेकर बड़े पैमाने पर विवाद हुआ था. इसके बाद से ही योगी ने इस क्षेत्र में स्वच्छता और जागरूकता अभियान चलाया, जिससे एन्सेफलाइटिस मामलों की संख्या में भारी कमी आई है.

First Published : 01 Sep 2020, 08:09:14 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.