News Nation Logo

BREAKING

15 अप्रैल को लॉकडाउन खुलने की संभावना कम, इस बड़े अधिकारी ने बताई वजह

गौरतलब है कि अब तक उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों का आंकड़ा 305 तक पहुंच गया है. रविवार से अब तक 27 नए केस उत्तर प्रदेश में सामने आए हैं.

By : Dalchand Ns | Updated on: 06 Apr 2020, 07:02:39 PM
Avnish Awasthi

15 अप्रैल को लॉकडाउन खुलने की संभावना कम, इस बड़े अधिकारी ने बताई वजह (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

कोरोना वायरस (COVID-19) के चलते 14 अप्रैल तक लागू लॉकडाउन के उत्तर प्रदेश में 15 अप्रैल के बाद खुलने की उम्मीद नहीं है. उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन को 15 अप्रैल से खोले जाने की खबरों के बीच राज्य सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि लॉकडाउन (Lockdown) खोला जाएगा तो यह देखा जाएगा कि हमारा प्रदेश 'कोरोना वायरस मुक्त' है या नहीं. लखनऊ में मीडिया को संबोधित करते हुए गृह एवं सूचना विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने यह बातें कहीं. उन्होंने कहा कि 14 अप्रैल के बाद भी लॉकडाउन खुलेगा या नहीं, इसके बारे में अभी कुछ भी कहना सम्भव नहीं है.

यह भी पढ़ें: तबलीगी जमातियों पर दर्ज होगा कत्ल की कोशिश और कत्ल का मुकदमा: उत्तराखंड डीजीपी

अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि अगर लॉकडाउन के बाद भी अगर एक भी केस पॉजिटिव रह गया तो सारी मेहनत बेकार हो जाएगी, इसलिए लॉकडाउन 14 अप्रैल के बाद खुलने की संभावना कम है. उन्होंने कहा कि जमातियों की वजह से मुश्किल बढ़ी है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जांच की सुविधा मजबूत करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने सभी धर्म के धर्मगुरुओं से भी बात की है. धर्मगुरुओं ने मोहल्ले स्तर पर कोरोना मित्र नियुक्त करने की सलाह दी है, जो स्थानीय मोहल्लों के ही हो सकते हैं. मुख्यमंत्री ने आज एक और महत्वपूर्ण फैसले लिया है, टेस्टिंग लैब की संख्या बढ़ाने का फैसला हुआ है.

अवनीश अवस्थी ने बताया कि जिन जिलों में जांच सुविधा नहीं होगी, वहां 'टेस्टिंग कलेक्शन सेंटर' बनाएंगे. अवस्थी ने अपील करते हुए कहा, 'किसी भी जनपद में धर्मस्थल या अन्य स्थान पर कोई भी रह गया है, जो संदिग्ध है, जिसकी तबियत खराब है या जिसने बीमार व्यक्ति के साथ संपर्क किया है, विलंब न करे क्योंकि जितना विलंब करेंगे, प्रदेश उतना पीछे रहेगा.' उन्होंने कहा कि तबलीगी जमात के आंकडों की वजह से कोरोना वायरस के जो मामले बढ़े हैं, वह चिन्ता का विषय हैं इसलिए लॉकडाउन पर फिर विचार करना होगा कि 14 अप्रैल के बाद खुल पाएगा या नहीं.

यह भी पढ़ें: कोरोना आइसोलेशन वार्ड में घुसे 2 फर्जी डॉक्टर, मचा हड़कंप, एक पकड़ा गया

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि जैसे ही लॉकडाउन खोला जाएगा तो सुनिश्चित किया जाएगा कि हमारा प्रदेश कोरोना वायरस से मुक्त हो. हालांकि अभी संभावना नहीं है कि लॉकडाउन जल्दी खुल पाएगा. गौरतलब है कि अब तक उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों का आंकड़ा 305 तक पहुंच गया है. रविवार से अब तक 27 नए केस उत्तर प्रदेश में सामने आए हैं, हालांकि ये सभी जमाती हैं. अवनीश अवस्थी ने बताया कि 305 में से 159 पॉजिटिव केस जमात के लोगों से हैं.

यह वीडियो देखें: 

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 06 Apr 2020, 06:02:42 PM