News Nation Logo
3 लोकसभा और 7 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे आज PM मोदी आज 'मन की बात' कार्यक्रम को करेंगे संबोधित भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा कोरोना संक्रमित दिल्ली: बादली इलाके के प्लास्टिक गोदाम में लगी आग, मौके पर फायर ब्रिगेड फायर उत्तर प्रदेश: आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव के लिए मतगणना जारी पाकिस्तान के जेल में मारे गए सरबजीत सिंह की बहन का हार्ट अटैक से निधन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जर्मन प्रेसीडेंसी के तहत G7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जर्मनी पहुंचे एकनाथ शिंदे ने 12 बजे गुवाहाटी के होटल में विधायकों की बैठक बुलाई है भारत में आज 11,739 नए Covid19 मामले सामने आए, सक्रिय मामले 92,576 हैं विपक्षी पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा कल दाखिल करेंगे अपना नामांकन

ग्रेटर नोएडा मेट्रो कॉरिडोर परियोजना में अब जल्द आएगी तेजी: नन्दी

Greater Noida Metro Corridor project: नोएडा सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क-5 तक प्रस्तावित मेट्रो कॉरिडोर परियोजना में अब जल्द ही और तेजी आयेगी

Anil Yadav | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 17 May 2022, 10:35:44 PM
Greater Noida Metro Corridor project

Greater Noida Metro Corridor project (Photo Credit: FILE PIC)

नई दिल्ली:  

Greater Noida Metro Corridor project: नोएडा सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क-5 तक प्रस्तावित मेट्रो कॉरिडोर परियोजना में अब जल्द ही और तेजी आयेगी. क्योंकि उत्तर प्रदेश  सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालने के साथ ही संशोधित डीपीआर को अपनी मंजूरी दे दी है . जिसे स्वीकृति के लिए केंद्र सरकार को भेज दिया गया है. केंद्र सरकार की सहमति मिलते ही मेट्रो का काम शुरू हो जाएगा. जिस पर करीब 2682 करोड़ रुपए का खर्च आएगा. जिसे तीन वर्ष में पूरा किया जाएगा। नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन द्वारा मेट्रो कॉरिडोर परियोजना का काम कराया जाएगा.


पहले चरण का कानोएडा सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क-5 तक प्रस्तावित मेट्रो कॉरिडोर परियोजना अगले तीन साल में पूरा होते ही यहां रहने के लिए आने वाले करीब दस लाख लोगों को मेट्रो की सुविधा मिल जाएगी। यह कॉरिडोर नोएडा सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन से इंटरचेंज के माध्यम से जुडे़गा. फिलहाल, यहां एक लाख लोग रह रहे हैं.
 नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट को मेट्रो से जोड़ने की परियोजना पर मंथन चल रहा था. इस बाबत नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन (एनएमआरसी) की ओर से सेक्टर-71 से नॉलेज पार्क-5 तक प्रस्तावित मेट्रो की डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) शासन को भेजी गई थी, जिसे मंजूर कर लिया गया था। लेकिन कुछ तकनीकी दिक्कतों की वजह से संशोधित डीपीआर तैयार किया गया था. संशोधित डीपीआर के स्वीकृति का इंतजार था. जिसे गंभीरता से लेते हुए और ग्रेटर नोएडा की हजारों जनता  की सुविधा के लिए मंत्री नन्दी ने अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है.

  •  कॉरिडोर की डीपीआर दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन की ओर से तैयार की गई है। 
  •  इस परियोजना की कुल लंबाई 14.958 किलोमीटर है और इसमें 9 स्टेशन प्रस्तावित हैं।
  • तीन लाख परिवारों और आसपास के लोगों को होगा सीधा फायदा
  • मंत्री नन्दी ने बताया कि इस परियोजना के पूरा होने पर तीन लाख परिवारों को सीधा फायदा होगा। 


दो चरणों में होगा निर्माण का काम
मंत्री नन्दी ने बताया कि कॉरिडोर का निर्माण कार्य दो चरणों में किया जाएगा। पहले चरण में 9.1555 किलोमीटर के कॉरिडोर का काम होगा। यह सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा के सेक्टर-2 तक होगा। इस कॉरिडोर पर पांच स्टेशन होंगे। इसमें नोएडा सेक्टर-122, नोएडा सेक्टर-123, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-4, ईकोटेक और ग्रेटर नोएडा सेक्टर-2 होगा। दूसरे चरण में 5.8025 किलोमीटर का काम होगा। इस कॉरिडोर पर चार स्टेशन होंगे। इसमें ग्रेटर नोएडा सेक्टर-3, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-10, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-12 और ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क-5 स्टेशन शामिल होंगे।

First Published : 17 May 2022, 10:35:44 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.