News Nation Logo

सरकार ने बदला था फैसला, फिर भी चली गई 1100 से ज्यादा होमगार्ड्स की नौकरी

बता दें कि पुलिस विभाग ने 25 हजार होमगार्ड जवानों की ड्यूटी समाप्त करने का निर्णय लिया था. थानों में पुलिस बल की कमी की वजह से पिछले दिनों होमगार्ड जवानों को कानून व्यवस्था की ड्यूटी में लगाने का निर्णय लिया गया था.

डालचंद | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 17 Oct 2019, 07:36:02 AM
सरकार ने बदला फैसला, फिर भी चली गई 1100 से ज्यादा होमगार्ड्स की नौकरी

सहारनपुर/शाहजहांप:  

होमगार्डों को भी पुलिस कांस्टेबल के बराबर वेतन देने के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश की वजह से दबाव झेल रही योगी आदित्यनाथ सरकार ने भले ही पुलिस विभाग में तैनात 25,000 होमगार्डों की सेवा समाप्त करने के फैसले से यू-टर्न ले लिया है. मगर शासन के निर्देश पर अब तक एक हजार से ज्यादा होमगार्डों को नौकरी से निकाला जा चुका है. जिसके कारण होमगार्डों में भारी रोष देखने को मिल रहा है.

यह भी पढ़ेंः बढ़ती महंगाई की वजह से प्याज, टमाटर और लहसुन की हो रही है चोरी, जानें हैरान करने वाला मामला

सहारनपुर के विभिन्न थानों और शाखाओ में तैनात 550 होमगार्डों की ड्यूटी तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी गई है. शासन के निर्देश पर एसएसपी दिनेश कुमार ने होमगार्डों की सेवाएं समाप्त की हैं. वहीं शाहजहांपुर में पुलिस अधीक्षक डॉक्टर एस एस चन्नप्पा ने ड्यूटी पर तैनात 600 होमगार्डों के जवानों को हटा दिया है. जिले में कुल 1178 होमगार्ड्स के जवान तैनात हैं. जिनमें से एसपी ने 600 जवानों को हटाया है.

बता दें कि पुलिस विभाग ने 25 हजार होमगार्ड जवानों की ड्यूटी समाप्त करने का निर्णय लिया था. थानों में पुलिस बल की कमी की वजह से पिछले दिनों होमगार्ड जवानों को कानून व्यवस्था की ड्यूटी में लगाने का निर्णय लिया गया था. इसके लिए होमगार्ड विभाग ने 25 हजार जवानों को पुलिस ड्यूटी के लिए दिया था, जो थानों से लेकर चौराहों पर ट्रैफिक तक संभाल रहे हैं. होमगार्ड जवानों द्वारा दी गई सेवा के मानदेय का माहवार आकलन एक हते में करने को भी कहा गया.

यह भी पढ़ेंः बीजेपी नेता के बेटे की दबंगई, बीच चौराहे पर दरोगा को जूतों से पीटा, वीडियो वायरल

सोमवार के आदेश के मुताबिक, एडीजी के आदेश के बाद 25 हजार होमगार्ड की सेवाएं समाप्त हुई हैं. एडीजी (पुलिस मुख्यालय) बी.पी. जोगदंड की ओर से यह आदेश जारी किया था. हालांकि सोमवार को इस मामले में सरकार ने अपने रुख में तब्दीली की और प्रदेश के होमगार्ड विभाग के मंत्री चेतन चौहान ने बताया कि किसी भी होमगार्ड को हटाया नहीं जाएगा. इस संबंध में उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों से भी बातचीत की हैं. चौहान ने कहा था कि पुलिस विभाग अगर 25 हजार होमगार्डों को हटा रहा है तो होमगार्ड विभाग उन्हें कहीं न कहीं लगा देगा, हो सकता उनके काम के दिन कम हो जाएं.

First Published : 17 Oct 2019, 07:29:36 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.