News Nation Logo

योगी सरकार ने NOIDA के DM बीएन सिंह को हटाया, सुहास एलवाई ने संभाली कमान

योगी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए गौतमबुद्ध नगर के डीएम बृजेश नारायण सिंह को हटा दिया है. सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए इस बात की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि नोएडा के जिलाधिकारी बीएन सिंह को हटाया जा रहा है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 31 Mar 2020, 12:28:52 AM
yogi Adityanath

सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

योगी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए गौतमबुद्ध नगर के डीएम  बृजेश नारायण सिंह को हटा दिया है. सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए इस बात की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि नोएडा के जिलाधिकारी बीएन सिंह को हटाया जा रहा है. अब उनकी जगह सुहास ललीनाकेरे यतिराज गौतमबुद्ध नगर की कमान संभाल ली है. 

दरअसल, सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने नोएडा में कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ने की सरकार की तैयारियों की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने डीएम बीएन सिंह और सीएमओ को फटकार लगाई. उन्होंने कहा कि नोएडा के अफसरों की लापरवाही दिख रही है. सीजफायर कंपनी की तालांबदी क्यों नहीं की गई.

इसके साथ ही उन्होंने डीएम बीएन सिंह से सवाल करते हुए पूछा दो महीने के क्या कर रहे थे. जिले के लिए कंट्रोल रूम बनाने के निर्देश दिए थे लेकिन जिला प्रशासन कंट्रोल रूम स्थापित नहीं हो पाया. नोएडा में अभी तक सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मिले हैं.

बीएन सिंह ने कहा था कि 18-18 घंटे काम कर रहे हैं. नोएडा में काम करने में असमर्थ हूं

सूत्रों के अनुसार योगी आदित्यनाथ की फटकार सुनकर डीएम बीएन सिंह ने कहा कि 18-18 घंटे काम कर रहा हूं. नोएडा में काम नहीं करना चाह रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैं नोएडा में काम करने में असमर्थ हूं.

इसे भी पढ़ें: जिस चीन पर कोरोना फैलाने का शक अब उसी ने किया दवा बनाने का दावा

बीएन सिंह का किया गया तबादला

जिसके बाद यह खबर आने लगी कि डीएम बीएन सिंह पर कार्रवाई हो सकती है. यह कयास सच साबित हुई . सोमवार शाम लखनऊ में मुख्य सचिव आरके तिवारी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया, 'गौतमबुद्धनगर जिलाधिकारी बृजेश नारायण सिंह को तत्काल प्रभाव से स्थानांतरण किया गया है और उनके खिलाफ विभागीय जांच आलोक टंडन द्वारा की जाएगी. उनकी जगह जिलाधिकारी के पद पर सुहास एल. वाई. की तैनाती की गई है.'

जिलाधिकारी बीएन सिंह के काम में पाई गई कमी

मुख्य सचिव ने कहा, 'कोविद-19 (COVID-19) की तैयारियों की समीक्षा में पाया कि जिलाधिकारी के स्तर पर समन्वय में काफी कमी पाई गई. पॉजिटिव पाए गए लोगों को क्वारंटाइन करने में भी कमी पाई गई. जिसके कारण पॉजिटिव मामले बढ़े हैं.'

और पढ़ें:केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला, 8वीं तक के बच्चे अगली कक्षा में होंगे प्रमोट, 12वीं के छात्रों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई

बीएन सिंह ने अवकाश पर जाने के लिए लिखा था खत

देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. अकेले गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) में 37 केस सामने आ चुके हैं. जिसे लेकर योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक करते हुए डीएम को फटकार लगाई थी. डीएम ने मुख्य सचिव को चिट्ठी लिखी और तीन महीने की छुट्टी मांगी थी.उन्होंने खत में लिखा कि व्यक्तिगत कारणों से मैं जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर पद पर नहीं रहना चाहता हूं. अत जिलाधिकारी के पदीय दायित्व से मुक्त करते हुए 3 महीने का उपर्जित अवकाश स्वीकृत करने का कष्ट करें.

इसके साथ ही उन्होंने नए जिलाधिकारी के पद पर किसी अन्य अधिकारी की तैनाती की बात कही. उन्होंने लिखा क्योकि वर्तमान में कोविद-19 को ध्यान में रखते हुए किसी भी प्रकार की प्रशासनिक शिथिलता ना हो इस हेतु आवश्यक है कि जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर पद पर किसी अन्य अधिकारी की तैनाती करने का कष्ट करें.

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 30 Mar 2020, 08:10:22 PM