News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

गौरव चंदेल मर्डर केस : पीड़ित परिवार को CM योगी ने दिया 20 लाख का मुआवजा

नोएडा के गौरव चंदेल हत्याकांड (Gaurav Chandel Murder) मामले में उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिवार को 20 लाख रुपये की सहायता दी है.

News Nation Bureau | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 13 Jan 2020, 07:33:14 AM
योगी आदित्यनाथ।

योगी आदित्यनाथ। (Photo Credit: फाइल फोटो)

नोएडा:

नोएडा के गौरव चंदेल हत्याकांड (Gaurav Chandel Murder) मामले में उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिवार को 20 लाख रुपये की सहायता दी है. रविवार को डीएम और IG पीड़ित परिवार के घर पहुंचे. यहां उन्होंने परिजनों को 20 लाख रुपये का चेक सौंपा. सूचना विभाग के सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने बताया कि CM योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिजनों को 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की थी. जिसे पूरा कर लिया गया है. इस घटना को लेकर रविवार को बसपा सुप्रीमो मायावती और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने योगी सरकार पर निशाना साधा.

यह भी पढ़ें- मैकाले की मानसिकता वाले लोग कर रहे उच्च शिक्षण संस्थानों में नारेबाजी : योगी

BSP सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट करके लिखा कि 'नोएडा में गौरव चन्देल की हत्या के मामले में भी लीपापोती व सरकारी उदासीनता के कारण वहाँ पूरे क्षेत्र में जन आक्रोश लगातार बढ़ता ही जा रहा है. यूपी सरकार खासकर अपराध-नियंत्रण व कानून-व्यवस्था के मामले में इस प्रकार की लापरवाही को छोड़कर जनहित पर समुचित ध्यान दे तो यह बेहतर होगा.'

गौरव चंदेल मर्डर केस पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने लिखा था कि ''बंधक के पद पर काम करने वाले गौरव चंदेल जी की नोएडा में अपराधियों ने हत्या कर दी थी. लूट-पाट के बाद हुई हत्या में सरकार की कार्रवाई अभी तक ढीली-ढाली ही है. नोएडा जैसे लोकेशन पर अगर अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं तो पूरे यूपी में क्या स्थिति होगी? गौरव चंदेल जी के परिवार को न्याय जल्द से जल्द मिलना चाहिए.''

यह भी पढ़ें- Kannauj Bus Accident : टायर में भरी नाइट्रोजन गैस बनी आग का कारण, जानें कैसे लगी आग

आपको बता दें कि गौरव चंदेल 6 जनवरी को गुरुग्राम से ग्रेटर नोएडा में अपने घर पर लौट रहे थे. नोएडा के हिंडन नदी के पास परथला चौक पर अज्ञात बदमाशों ने उसके सिर में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी. इसके बाद बदमाश लैपटॉप और कार लूट कर फरार हो गए. इस मामले में जांच के दौरान पुलिसकर्मियों की कथित तौर पर लापरवाही सामने आई है. लापरवाही बरतने के आरोप में बिसरख के प्रभारी निरीक्षक मनोज पाठक समेत छह पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया और एक अन्य को लाइन हाजिर किया गया था.

First Published : 13 Jan 2020, 07:33:14 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.