News Nation Logo

महर्षि वाल्मीकि की तुलना तालिबान से करने पर मुनव्वर राना के खिलाफ FIR

मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा था कि तालिबान उतने ही आतंकी हैं, जितने रामायण लिखने वाले वाल्मीकि हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Ritika Shree | Updated on: 21 Aug 2021, 01:11:06 PM
munnawar rana

मुनव्वर राना (Photo Credit: Twitter/TarekFatah)

highlights

  • मुनव्वर राणा के खिलाफ लखनऊ में एफआईआर दर्ज करवाने को लेकर तहरीर दी गई
  • मुनव्वर राणा ने कहा था तालिबान उतने ही आतंकी हैं, जितने रामायण लिखने वाले वाल्मीकि हैं
  • वे कई दफे अपने बयानों के जरिए से विवाद खड़ा कर चुके हैं

लखनऊ :

महर्षि वाल्मीकि की तुलना तालिबान से करने के आरोप में मशहूर शायर मुनव्वर राणा की मुश्किलें बढ़ गई हैं. उनके खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज थाने में एफआईआर दर्ज करवाने को लेकर तहरीर दी गई है. शायर मुनव्वर राणा ने तालिबान को लेकर पूछे गए सवाल पर विवादित बयान दिया था. उन्होंने एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा था कि तालिबान उतने ही आतंकी हैं, जितने रामायण लिखने वाले वाल्मीकि हैं. राणा से पूछा गया था कि तालिबान आतंकी संगठन है या नहीं. इसके जवाब में मशहूर शायर ने कहा था कि अगर वाल्‍मीकि रामायण लिखते हैं तो वह देवता हो जाते हैं, उससे पहले वह डाकू थे. आदमी का किरदार बदलता रहता है. 

यह भी पढ़ेः बिकरू मुठभेड़ कांड: जांच आयोग ने पुलिस को दी क्लीनचिट, विधानसभा में रिपोर्ट पेश

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा देवबंद में एटीएस सेंटर खोलने पर मुनव्वर राणा ने कहा था कि प्रदेश में भी तालिबान जैसा काम हो रहा है. इससे पहले भी वे कई दफे अपने बयानों के जरिए से विवाद खड़ा कर चुके हैं. हाल ही में मुनव्वर राणा ने ऐलान किया था कि यदि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार फिर से बनती है तो वे यूपी छोड़ देंगे. उन्होंने कहा था कि यदि योगी आदित्यनाथ फिर से सीएम बनते हैं तो मैं समझ जाऊंगा कि यह राज्य मुसलमानों के लिए रहने लायक नहीं है. मुनव्वर राणा के खिलाफ यह तहरीर आंबेडकर महासभा ने दी है. आंबेडकर महासभा ने मुनव्वर राणा के तालिबान और महर्षि वाल्मीकि की तुलना करते हुए दिए गए बयान पर नाराजगी जताई है. महासभा के महामंत्री अमरनाथ प्रजापति ने तहरीर देते हुए एफआईआर दर्ज करवाए जाने की मांग की है. 

यह भी पढ़ेः अब ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में मां श्रृंगार गौरी का मसला भी पहुंचा अदालत

बता दें कि इससे पहले भी मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जे का समर्थन करते हुए कहा था कि तालिबान अपने देश को आजाद कराने में आखिर सफलता हासिल की है। इसके अलावा उन्होंने कहा था कि तालिबान आतंकी संगठन हो सकता है लेकिन वह अपने मुल्क के लिए लड़ रहे हैं तो आप उन्हें आतंकी कैसे कह सकते हैं। दरअसल में मशहूर शायर मुनव्वर राणा अपने विवादित बयान के लिए जाने जाते हैं. आए दिन उनके बयान से विवाद उठता रहा है. ऐसे में मशहूर शायर मुनव्वर राणा के बयान से देश में एक नया विवाद उठना तय है.

First Published : 20 Aug 2021, 09:25:47 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.