News Nation Logo
Banner

दिल्ली हिंसा की आंच उत्तर प्रदेश पहुंचने की आशंका, कई शहरों में अतिरिक्त फोर्स तैनात, अलर्ट जारी

सुरक्षा प्रबंध संभालने के लिए मुख्यालय से वरिष्ठ अधिकारियों को भेजा जा रहा है. सुरक्षा की दृष्टि से इन सभी जिलों में पीएसी तैनात कर दी गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 26 Feb 2020, 11:06:05 AM
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

लखनऊ:

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ दिल्ली में भड़की हिंसा की आंच उत्तर प्रदेश में भी पहुंचने का आशंका है. उत्तर प्रदेश सरकार (Yogi Adityanath) इसको लेकर बिल्कुल सतर्क हो गई है. उन्होंने संवेदनशील शहरों के साथ ही दिल्ली की सीमा से सटे जिलों को खास निगरानी में लेने का आदेश दिया है. सुरक्षा प्रबंध संभालने के लिए मुख्यालय से वरिष्ठ अधिकारियों को भेजा जा रहा है. सुरक्षा की दृष्टि से इन सभी जिलों में पीएसी तैनात कर दी गई है.

यह भी पढ़ें- NSA अजित डोभाल दिल्ली हिंसा पर मोदी कैबिनेट को देंगे जानकारी

वरिष्ठ अधिकारी मुख्यालय से भेजे गए 

बता दें कि CAA को लेकर उत्तर प्रदेश पहले से ही संवेदनशील बना हुआ है. यहां पहले भी लखनऊ, फीरोजाबाद, बागपत, मेरठ और अलीगढ़ सहित कई जिलों में हिंसा हो चुकी है. कई जगह अभी भी प्रदर्शन चल रहा है. दिल्ली सीमा से सटे नोएडा, गाजियाबाद, बागपत और बुलंदशहर के अलावा संवेदनशील अलीगढ़, मुजफ्फरनगर और संभल को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार ने पहले ही तैयारी कर ली है. पुलिस महानिदेशक हितेशचंद्र अवस्थी ने बताया कि उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में शांति है, फिर भी दिल्ली बॉर्डर वाले जिलों में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं. वरिष्ठ अधिकारी मुख्यालय से भेजे गए हैं, जो सुरक्षा व्यवस्था की कमान संभालेंगे. हिंसा को रोकने के लिए पहले सी तैयारी की जा रही है.

यह भी पढ़ें- NRC के खिलाफ बिहार विधानसभा के प्रस्ताव का रामविलास पासवान ने किया स्वागत

राजधानी लखनऊ में अलर्ट घोषित

हालांकि यूपी सरकार की सख्ती की वजह से ज्यादा दिनों तक हिंसा नहीं चली थी. यूपी सरकार ने सख्त लहजे में कहा था कि जो भी सरकारी संपत्ति का नुकसान पहुंचाएगा, उसकी संपत्ति कुर्क कर ली जाएगी. इससे उपद्रवियों में दहशत फैल गई थी. प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अलर्ट घोषित कर दिया गया है. लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडे ने बताया कि घंटाघर इलाके में और अधिक संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है, जहां पिछले एक महीने से ज्यादा समय से सीएए के खिलाफ महिलाएं धरना- प्रदर्शन कर रही हैं.

First Published : 26 Feb 2020, 11:01:04 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×