News Nation Logo

फर्रुखाबाद : सिरफिरे सुभाष बाथम की पत्‍नी को लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में जिस युवक ने 23 बच्चों को गुरुवार को बंधक बना लिया था, उसकी पत्नी को स्थानीय लोगों ने पीट पीटकर मार डाला.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 31 Jan 2020, 09:46:54 AM
फर्रुखाबाद : सिरफिरे की पत्‍नी को लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला

फर्रुखाबाद : सिरफिरे की पत्‍नी को लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला (Photo Credit: ANI Twitter)

नई दिल्‍ली:

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद (Farrukhabad) में जिस सुभाष बाथम नाम के युवक ने 23 बच्चों को गुरुवार शाम को बंधक बना लिया था, उसकी पत्नी रूबी को भी स्थानीय लोगों ने पीट पीटकर मार डाला. इससे पहले सुभाष बाथम को 11 घंटे के ऑपरेशन के बाद पुलिस ने मार डाला था. इसके बाद सभी 23 बच्चों को सुरक्षित बचा लिया गया था. इससे पहले गुरुवार शाम से फर्रुखाबाद में चल रहे पुलिस के 10 घंटे तक के 'ऑपरेशन हैप्‍पी बर्थडे' के बाद बंधक संकट समाप्‍त हो गया था. पुलिस (Police) ने बच्‍चों को बंधक बनाने के आरोपी सुभाष बाथम मार गिराया. इस कार्रवाई में सुभाष बाथम की पत्‍नी रूबी भी घायल हो गई थी और इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई. पुलिस ने सभी 23 बच्चों को सकुशल बरामद कर लिया है. यह सनसनीखेज घटना फर्रुखाबाद (Farrukhabad) जिले के मोहम्मदाबाद थाना क्षेत्र के किर्था गांव में घटी. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी (Awanish Kumar Awasthi) ने इस घटना की पुष्‍टि की. 

कानपुर जोन के आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि महिला ने चोटों के कारण दम तोड़ दिया है. हम पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं. पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में ही रूबी की मौत के कारणों के बारे में विस्‍तार से जानकारी मिल पाएगी.

यह भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर: आतंकी हमले में तीन आतंकवादी ढेर, नगरोटा इलाके में जारी मुठभेड़

उत्‍तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी के अनुसार, पुलिस ऑपरेशन के दौरान ड्रोन की मदद ली गई. बच्चों को बंधक बनाकर रखने वाले सुभाष बाथम को मार गिराया गया और सभी बच्चों को सुरक्षित निकाल लिया गया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस की सफलता के लिए 10 लाख रुपये का पुरस्कार देने का ऐलान किया है. ऑपरेशन में भाग लेने वाले सभी कर्मियों को प्रशंसा पत्र दिया जाएगा.

उत्‍तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया, 'हमने उसे रचनात्मक रूप से बातचीत के माध्यम से संलग्न करने की कोशिश की, लेकिन हमें जानकारी मिली कि उसके पास हमला करने की क्षमता है और वह विस्फोट करने की धमकी भी दे रहा था.

यह भी पढ़ें : फर्रुखाबाद बंधक संकट खत्म: सभी 23 बच्चे सुरक्षित बरामद, पुलिस कार्रवाई में मारा गया आरोपी

आईजी ने बताया, पुलिस मुठभेड़ के वक्त महिला (आरोपी की पत्नी) ने भागने की कोशिश की और जब उसके पति (आरोपी) ने गोली चलाई तो आक्रोशित गांव के लोगों ने महिला को ईंट-पत्थर से मारा-पीटा. घायल महिला को अस्पताल भेजा गया. ईंट-पत्‍थर से हमले के बाद वह बुरी तरह घायल हो गई थी और उसके सिर से खून निकल रहा था.

First Published : 31 Jan 2020, 09:21:24 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.