News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

फर्रुखाबाद मामलाः अमित शाह ने योगी आदित्यनाथ को दी बधाई, जवाब में CM ने लिखा...

फर्रुखाबाद में बंधक बनाए गए 23 बच्चों को सकुशल छुड़ाए जाने पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्य पुलिस को बधाई दी है.

Bhasha | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 31 Jan 2020, 12:41:52 PM
गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

फर्रुखाबाद (Farrukhabad) जिले में बंधक बनाए गए 23 बच्चों को सकुशल छुड़ाए जाने पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्य पुलिस को बधाई दी है. शाह ने ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फर्रुखाबाद में बंधक बनाये सभी बच्चों को पुलिस द्वारा अपनी कुशल रणनीति एवं योजना से सुरक्षित छुड़वाया जाना प्रशंसनीय है. इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) जी और उत्तर प्रदेश पुलिस को बधाई देता हूं.

यह भी पढ़ेंः बीजेपी विधायक संगीत सोम बोले- शरजील इमाम जैसे लोगों को चौराहे पर गोली मार देनी चाहिए

इसके जवाब में मुख्यमंत्री योगी ने कहा, 'धन्यवाद माननीय गृहमंत्री अमित शाह जी, उत्तर प्रदेश सरकार की अपराध को कतई बर्दाश्त नहीं करने की नीति है. महिलाओं, बच्चों और समाज के अन्य कमजोर वर्गों के खिलाफ अपराध किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता.'

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'हमारी पुलिस ने जिस साहस और रणनीति से 23 बच्चों को सकुशल एक अपराधी की गिरफ्त से मुक्त कराया है, वह सराहनीय है. प्रदेश की कानून व्यवस्था आपके मार्गदर्शन में जनमानस की सुरक्षा के लिए संकल्पित एवं सदैव सजग है.'

बता दें कि फर्रुखाबाद जिले के मोहम्मदाबाद के कठरिया गांव में पुलिस ने हत्या के एक मामले में आरोपी सुभाष बाथम को देर रात मार गिराया और सभी बच्चों को उसके घर से सुरक्षित निकाल लिया. बंधक बनाए गए बच्चों की आयु छह महीने से 15 साल से बीच है. बच्चे करीब आठ घंटे तक बंधक बने रहे. बाथम ने अपनी बेटी के जन्मदिन के समारोह में बच्चों को आमंत्रित करने के बाद बृहस्पतिवार शाम उन्हें बंधक बना लिया था. पुलिस की कार्रवाई के दौरान 23 बच्चों को बंधक बनाने वाले व्यक्ति की गंभीर रूप से घायल पत्नी की भी इलाज के दौरान मौत हो गई. एसपी अनिल कुमार मिश्रा ने बताया कि आरोपी की पत्नी गोली लगने की वजह घायल हुई थी, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई.

यह भी पढ़ेंः रिटायरमेंट पर यूपी के DGP ओपी सिंह बोले- आज अच्छा और बुरा दोनों लग रहा है

वहीं महानिरीक्षक (कानपुर) मोहित अग्रवाल ने बताया कि आरोपी की पत्नी को स्थानीय लोगों ने उस समय पीटा था जब वह वहां से बचकर निकलने की कोशिश कर रही थी लेकिन गंभीर रूप से घायल होने के कारण उसकी गुरुवार रात मौत हो गई. उन्होंने बताया कि उसके सिर पर लगी चोट से खून निकल रहा था. उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई. अग्रवाल ने कहा कि पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के सही कारण का पता चल पाएगा.

यह वीडियो देखेंः 

First Published : 31 Jan 2020, 12:35:55 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.