News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा एक फर्जी फतवा, अंदर लिखी बातें जानकर रह जाएंगे हैरान

आज एसएसपी दिनेश कुमार पी ने उस फतवे का खंडन करते हुए कहा कि यह फतवा देवबंद दारुल उलूम से नहीं जारी हुआ है और देवबंद दारुल उलूम से इस फतवे का कोई लेना देना नहीं है.

Written By : Vikas Kapil | Edited By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 03 Mar 2020, 08:59:23 AM
News State

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: News State)

Lucknow:

उत्तर प्रदेश के देवबंद में दारुल उलूम के नाम से सोशल मीडिया पर एक फतवा बहुत तेजी से वायरल हो रहा है जिस फतवे को लेकर काफी चर्चाएं बनी हुई हैं. आज एसएसपी दिनेश कुमार पी ने उस फतवे का खंडन करते हुए कहा कि यह फतवा देवबंद दारुल उलूम से नहीं जारी हुआ है और देवबंद दारुल उलूम से इस फतवे का कोई लेना देना नहीं है. देवबंद दारुल के लोगों ने भी इसका खंडन किया है और हमने एफ आई आर दर्ज करने के आदेश दे दिए हैं और उसकी जांच के लिए एसपी देहात को निर्देशित किया है.

यह भी पढ़ें- प्रशांत किशोर ने कसा नीतीश कुमार पर तंज, 200 सीटें जीतने के दावे पर पूछा यह सवाल

आपको बता दें कि इस फतवे में मुसलमानों से अपील की गई है कि आप हिंदू बस्तियों ओर गांवों में जाएं और उन इलाकों में केमिकल मिलाकर घटिया क्वालिटी के फल सब्जी दूध पनीर आइसक्रीम आदि चीजें भेजें जिससे हिंदू और उनके बच्चे भारी मात्रा में बीमारी की गिरफ्त में आए. इस फतवे को लेकर दारुल उलूम देवबंद और पुलिस दोनों ने इसका खंडन किया है और अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है.

First Published : 03 Mar 2020, 08:49:01 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Fake Fatwa Up News Hindu Muslim

वीडियो