News Nation Logo
Banner

कफील के भाई का आरोप, दिल्ली चुनाव में फायदा उठाने के लिये की गयी गिरफ्तारी

बाल रोग विशेषज्ञ डा. कफील अहमद के भाई ने आरोप लगाया है कि सरकार उनको गिरफ्तार कर दिल्ली चुनाव में इसका फायदा उठाना चाहती है. उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने डा. कफील को मुंबई हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया.

Bhasha | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 30 Jan 2020, 07:51:21 PM
डॉक्टर कफील खान।

डॉक्टर कफील खान। (Photo Credit: फाइल फोटो)

गोरखपुर:

बाल रोग विशेषज्ञ डा. कफील अहमद के भाई ने आरोप लगाया है कि सरकार उनको गिरफ्तार कर दिल्ली चुनाव में इसका फायदा उठाना चाहती है. उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने डा. कफील को मुंबई हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया. पिछले माह अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हुए प्रदर्शन के दौरान कफील पर भडकाऊ बयान देने का आरोप है. कफील के भाई आदिल ने पीटीआई-भाषा से कहा, ''मेरे भाई को मुंबई से अलीगढ में एफआईआर दर्ज होने के एक महीने बाद गिरफ्तार किया गया है.

यह भी पढ़ें- BJP अध्यक्ष से मिले तीर्थ पुरोहित, देवस्थानम एक्ट वापस लेने की हुई मांग

उन्हें आईपीसी की धारा 153 ए के तहत गिरफ्तार किया गया है, जिसमें तीन साल की सजा का प्राविधान है. कानूनन ऐसे मामलों में गिरफ्तारी के कोई मायने नही होते हैं.'' उन्होंने कहा कि '' गिरफ्तारी का साफ मतलब दिल्ली विधान सभा चुनाव में फायदा उठाना है. आरोप है कि मेरे भाई को देश के संविधान में भरोसा नही है, जो कि गलत है.

सोशल मीडिया पर उनका जो भी भाषण है उसमें ऐसा कुछ भी नही कहा गया है और उन्हें गलत तरीके से गिरफ्तार किया गया है.'' आदिल ने कहा, ‘‘मेरा भाई दोहरा निलंबन झेल रहा है. गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की घटना के बाद वह निलंबित हुये थे. बाद में बहराइच में हुये एक मामले में उन्हें निलंबित किया गया था. इससे पहले एसटीएफ ने लखनऊ में एक बयान में बताया कि खान को मुंबई पुलिस के साथ संयुक्त कार्रवाई में गिरफ्तार किया गया. वह नागरिकता संशोधन कानून विरोधी प्रदर्शन में शामिल होने के लिए बुधवार रात मुंबई पहुंचे थे.

यह भी पढ़ें- UP के बहराइच में दरोगा की पिस्टल हुई गायब, पुलिस ने जनता से की अपील 

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में अगस्त 2017 में कथित तौर पर ऑक्सीजन की कमी के चलते 60 से अधिक बच्चों की मौत में कथित भूमिका के लिए कफील को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था. कफील बीआरडी मेडिकल कालेज में उस समय बाल रोग विशेषज्ञ के रूप में तैनात थे, जब अस्पताल के शिशु वार्ड और क्रिटिकल केयर यूनिट में ऑक्सीजन की कथित कम आपूर्ति के चलते सप्ताह भर से कम समय में ही 63 बच्चों की मौत हो गयी थी.

यह भी पढ़ें- बांद्रा कोर्ट ने डा. कफील खान को ट्रांजिट रिमांड पर यूपी पुलिस की स्‍पेशल टास्‍क फोर्स को सौंपा

एसटीएफ के एक अधिकारी ने लखनऊ में बताया कि कफील को अलीगढ के सिविल लाइंस थाने में दर्ज एक मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है. मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि हमारी पुलिस टीम ने यूपी पुलिस के अधिकारियों के आग्रह पर उनकी मदद की. अधिकारियों का आरोप है कि कफील ने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियां की थीं. ट्रांजिट रिमांड पर उत्तर प्रदेश ले जाने से पहले आपैचारिकताएं पूरी करने के लिए गिरफ्तारी के बाद कफील को सहार थाने ले जाया गया.

First Published : 30 Jan 2020, 07:51:21 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Kafeel Ahmad