News Nation Logo

प्रतापगढ़ में पुलिस पर जानलेवा हमला, सिपाही गंभीर रूप से घायल

प्रतापगढ़ में गाड़ी चेकिंग दौरान पुलिस पर जानलेवा हमला हुआ है. इस हमले में सीओ सिटी के गनर अनिल यादव गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि सीओ की बदमाशों ने वर्दी फाड़ डाली.

Written By : ब्रजेश मिश्रा | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 17 Feb 2021, 05:14:20 PM
Constable Anil Yadav seriously injured

प्रतापगढ़ में पुलिस पर जानलेवा हमला (Photo Credit: न्यूज नेशन )

highlights

  • प्रतापगढ़ में एक बार फिर से पुलिस पर जानलेवा हमला हुआ.
  • हमले में सीओ सिटी के गनर अनिल यादव गंभीर रूप से घायल हो गए.
  • कुछ दिन पहले कंधई थाना क्षेत्र के शिवसत में भी पुलिस पर हमला हुआ था.

 

 

प्रतापगढ़:

प्रतापगढ़ में एक बार फिर से पुलिस पर जानलेवा हमला हुआ है. इस हमले में सीओ सिटी के गनर अनिल यादव गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि सीओ की बदमाशों ने वर्दी फाड़ डाली जिसके बाद पहुंची भारी पुलिस बल के जवानों ने दौड़ाकर दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है और उनके खिलाफ विधिक कार्रवाई करने की बात कही जा रही है. मामला नगर कोतवाली इलाके के सदर तिराहे का है. जहां बुधवार को वाहन चेकिंग करने गए. सीओ सिटी अभय पांडे की टीम पर बेखौफ बदमाशों ने जानलेवा हमला कर दिया. जिसमें सीओ सिटी का गनर अनिल यादव गंभीर रूप से घायल हो गया जिसे जिला अस्पताल भर्ती कराया गया. जहां उसका उपचार चल रहा है. वही जानकारी होने के बाद भारी पुलिस बल मौके पहुंची और दोनों आरोपी निशांत और प्रशांत को हिरासत में ले लिया है और उनके खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है यह दोनों शहर के ही बलीपुर मोहल्ले के निवासी हैं जिनके वाहनों की तलाशी लेने गई पुलिस पर जानलेवा हमला करने का आरोप है.

यह भी पढ़ें : गुटखा उधार नहीं देने पर गोली मार कर हत्या, जानिए पूरा मामला

बता दें कि कुछ दिन पहले कंधई थाना क्षेत्र के शिवसत में रामेंद्र सिंह का पड़ोसी जयहिंद उर्फ भालचंद्र के बीच घर के बीच से निकले रास्ते में नाली को लेकर विवाद चला आ रहा था. नाली का विवाद सुलझाने के लिए रविवार को कंधई थाना प्रभारी अंगद राय समेत अन्य पुलिसकर्मी मौके पर गए थे. जहां नाली के विवाद को दूर कराने के दौरान एक पक्ष ने थाना प्रभारी से अभद्रता करते हुए पुलिस पर हमला कर दिया. जिसमें दिलीपपुर चौकी प्रभारी जयशंकर तिवारी, दरोगा शैलेंद्र तिवारी समेत तीन सिपाहियों को चोटें आईं थी. पुलिस पर हमले की खबर के बाद सीओ पट्टी और एएसपी पूर्वी सुरेंद्र प्रसाद भारी फोर्स के साथ गांव पहुंचे थे.

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी पर पोल कराने पर ट्रोल हुए रणवीर, नेहरू और कांग्रेस पर तंज कस फंसे 

इस मामले में थाना प्रभारी अंगद राय की तहरीर पर पुलिस ने रामेंद्र सिंह, नारेंद्र सिंह, विशाल सिंह, अजय सिंह, ऋषभ सिंह, प्रीत सिंह और सुरेंद्र सिंह के खिलाफ जानलेवा हमला समेत सरकारी कार्य में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज कर लिया. मुकदमे की विवेचना सीओ पट्टी को सौंपी गई है. रात में पुलिस ने दबिश देकर बभनमई स्थित एक ढाबे से मुख्य आरोपी रामेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया. उसे सोमवार को जेल भेज दिया गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Feb 2021, 04:31:48 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो