News Nation Logo
Banner

बस्ती मुठभेड़ में गोरखपुर STF ने डेढ़ लाख का इनामी फिरोज पठान को मार गिराया, हथियार बरामद

पुलिस ने उसके कब्जे से एक 9 एमएम कार्बाइन, एक .32 बोर पिस्टल और एक देसी बन्दूक की बरामदगी की है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 24 Feb 2020, 11:15:40 AM
मुठभेड़ में घायल इनामी और हथियार बरामद

मुठभेड़ में घायल इनामी और हथियार बरामद (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

बस्ती:

गोरखपुर मुठभेड़ (Encounter) में डेढ़ लाख का इनामी फिरोज पठान गंभीर रूप से घयाल हो गया है. गोरखपुर स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने बस्ती के लालगंज थाना क्षेत्र में महादेव बाजार में हुई मुठभेड़ में इनामी को गोली मारी. गोली लगने से इनामी फिरोज घायल हो गया. पुलिस ने उसके कब्जे से एक 9 एमएम कार्बाइन, एक .32 बोर पिस्टल और एक देसी बन्दूक की बरामदगी की है. इनामी के कब्जे से पुलिस ने ड्राइविंग लाइसेंस, ATM कार्ड और कई दस्तावेज जब्त किए हैं. ड्राइविंग लाइसेंस पर उसका नाम फिरोज पठान है. पिता जी का नाम अब्दुल हमदी पठान है. अपने पता में शांति शॉपिंग कॉम्पलेक्स ठाणे लिखा है.

यह भी पढ़ें- बिहार के बांका में 41 बोतल अवैध अंग्रेजी शराब के साथ कारोबारी गिरफ्तार, ऐसे देता था घटना को अंजाम

अस्पताल में तोड़ा दम

फिरोज पर गोरखपुर जोन ने 1 लाख रुपये का इनाम घोषित किया था. वहीं इलाहाबाद जोन ने 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था. फरेंदा, बस्ती समेत कई बैंक की डकैती में वांछित चल रहा था. कौशाम्बी के दो ग्रैच सीवेज केंद्र एसीएस होम श्री अवनीश अवस्थी ने प्रशंसा पत्र के साथ टीम के लिए दो लाख रुपये का इनाम घोषित किया है. बस्ती में एसटीएफ और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई. फिरोज पठान मुठभेड़ में बुरी तरह से घायल हो गया. उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया.

यह भी पढ़ें- सुन्नी वक्फ बोर्ड जमीन के उपयोग पर आज की बैठक में करेगा फैसला, सामने ये है चुनौती

बैंक लूट कांड में वांछित चल रहा था

डॉक्टरों ने इनामी बदमाश फिरोज पठान को मृत घोषित कर दिया. बैंक लूट कांड में वांछित चल रहा था. गोरखपुर के एसटीएफ सत्य प्रकाश सिंह एसटीएफ टीम, पुरानी बस्ती थानाध्यक्ष सर्वेश रॉय और लालगंज थानाध्यक्ष अनिल सिंह, कोतवाल रामपाल यादव, प्रभारी निरीक्षक मुंडेरवा सुशील कुमार शुक्ला शामिल रहे. मौके पर पहुंचे जिले एसपी हेमराज मीना, एएसपी पंकज सहित भारी फोर्स घटना स्थल पर मौजूद रहे. वहीं बागपत में गस्त के दौरान गो तस्कर (Cow Traffickers) और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई. मुठभेड़ (Encounter) के दौरान जवाबी फायरिंग में 2 तस्करों को गोली लग गई. घायल तस्करों सहित 3 को गिरफ्तार कर लिया गया है.

यह भी पढ़ें- अमरोहा में नाबालिग भाई-बहन को रिश्तेदारों ने हाथ बांधकर बुरी तरह से पीटा, मामला दर्ज

तस्कर लग्जरी गाड़ी में गोवंस भरकर ले जा रहे थे

तस्करों के कब्जे से 2 गोवंश सहित नशे के इंजेक्शन और तमंचे बरामद कर लिए गए. बताया जा रहा है कि तस्कर लग्जरी गाड़ी में गोवंस भरकर ले जा रहे थे. गाड़ी को कब्जे में ले ली गई है. थाना सिंघावली अहीर और शहर कोतवाली पुलिस के साथ तस्करों से मुठभेड़ हुई. गांव में लगातार हो रही युवकों की मौत की घटना से मृतकों के परिजन जहां सदमे में हैं. वहीं गांव लोग भयभीत हैं. जबकि सरिया थाना क्षेत्र के फकीरा पहरी गांव में 4 दिनों के अंदर 9 लोगों की मौत हो गई है. इस बाबत मिली जानकारी के अनुसार विगत 12 फरवरी 2020 को गांव के छट्टी महतो की मृत्यु सबसे पहले हुई. उसके बाद 13 फरवरी को अरविंद सिंह व उर्मिला देवी की मौत हो गई. वहीं 14 फरवरी को वासुदेव रजक 70 वर्ष की मौत हो गई.

First Published : 24 Feb 2020, 08:28:39 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×