News Nation Logo
Banner

कोरोना : इंडोनेशिया से रामपुर लौटा संदिग्ध घर से बाहर मिला, एफआईआर दर्ज

ताकि लोगों को सबक के साथ सेवा का भी मौका मिल सके.' यह बेबाक टिप्पणी रामपुर के जिलाधिकारी (डीएम) आञ्जनेय कुमार सिंह ने मंगलवार को फोन पर विशेष बातचीत के दौरान की. डीएम रामपुर ने आगे कहा, "अभी तक रामपुर जिले में मैंने लॉकडाउन लागू नहीं किया था.

IANS | Updated on: 25 Mar 2020, 07:39:32 AM
1800x1200 coronavirus 1

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: News State)

Lucknow:

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में जो भी कोरोना को लेकर अफवाहें फैलाएगा, कोरोना पीड़ित/संदिग्ध की मदद से कतराएगा, कोरोना को लेकर किए जा रहे राजकीय कार्यों का मजाक उड़ाएगा, ऐसे सभी लोगों से कोरोना वार्ड में भर्ती मरीजों और संदिग्धों की सेवा कराई जाएगी, साथ ही वार्डस की साफ-सफाई भी करवाई जाएगी. ताकि लोगों को सबक के साथ सेवा का भी मौका मिल सके.'

यह बेबाक टिप्पणी रामपुर के जिलाधिकारी (डीएम) आञ्जनेय कुमार सिंह ने मंगलवार को फोन पर विशेष बातचीत के दौरान की. डीएम रामपुर ने आगे कहा, "अभी तक रामपुर जिले में मैंने लॉकडाउन लागू नहीं किया था. मेरा इरादा मंगलवार को आधी रात से जिले को लॉकडाउन करने का था. लेकिन इससे पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा कर दी.''

यह भी पढ़ें- योगी सरकार का बड़ा फैसला उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिले बुधवार से 27 मार्च तक लॉकडाउन

डीएम आञ्जनेय कुमार ने आगे कहा, "जो भी महामारी की इस घड़ी में दूर भागेगा, उसे कानूनन करीब लाया जाएगा, ताकि बाकियों को सबक मिल सके, साथ ही कोरोना को लेकर लापरवाही बिलकुल बर्दाश्त नहीं करुंगा. चाहे फिर जिले का कोई सरकारी अधिकारी, कर्मचारी हो या आमजन. इसी के चलते मैंने सोमवार को एक संदिग्ध के खिलाफ भी रामपुर सिविल लाइंस थाने में मामला दर्ज कराया है."

थाना सिविल लाइंस (रामपुर) में 23 मार्च, 2020 को दर्ज और आईएएनएस के पास मौजूद एफआईआर के मुताबिक, रामपुर की इंद्रप्रस्थ कॉलोनी में रहने वाला एक नव-दंपति इंडोनेशिया से 16 मार्च को भारत लौटा. कोरोना महामारी की बात तब तक दुनिया में फैल चुकी थी. इसके बाद भी इस युगल ने पुलिस और रामपुर जिला प्रशासन को इंडोनेशिया से रामपुर लौट आने की जानकारी नहीं दी."

जिलाधिकारी रामपुर के मुताबिक, "जब जिला प्रशासन को पता चला तो हमारी टीमें संबंधित युगल के घर 21 मार्च को पहुंचीं. टीमों ने उन्हें घर में ही ब-हिफाजत रहने की हिदायत दी."

डीएम रामपुर ने आगे कहा, "अचानक यह पता करने के लिए कि दंपत्ति घर में ही है या नहीं? टीमें जब कोरोना संदिग्ध के घर पहुंचीं तो युवक गायब मिला. छानबीन करने पर पता चला कि युवक जिस संस्था में विधिक सलाहकार है, वहां काम निपटाने/निपटवाने पहुंच गया था. लिहाजा मैंने उसी वक्त रामपुर के अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. ओ.पी. आर्य को आदेश दिया कि वह तुरंत आरोपी के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में आपराधिक मामला दर्ज करवाए."

First Published : 25 Mar 2020, 07:39:32 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Rampur Corona
×