News Nation Logo
Banner

UP में कोरोना (Coronavirus Covid-19) मरीजों की संख्या बढ़कर 410, 221 जमातियों की देन, आगरा टॉप पर

संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ़ विकासेंदु अग्रवाल ने बताया कि अब तक कुल 361 केस सामने आए.

IANS | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 09 Apr 2020, 10:27:26 AM
corona

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:  

Coronavirus (Covid-19): उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं. बुधवार को राज्य में कोविड-19 (Coronavirus Covid-19, Corona Virus In India, Corona In India, Covid-19, ) संक्रमितों की संख्या बढ़कर 410 हो गई. संक्रमितों में तबलीगी जमात के 221 लोग भी शामिल हैं. अभी तक इससे 40 जिले प्रभावित हैं. सबसे अधिक 64 कोरोना (Corona) पॉजटिव मरीज आगरा में जिले में हैं. संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ़ विकासेंदु अग्रवाल ने बताया कि अब तक कुल 410 केस सामने आए. इसमें सबसे अधिक 64 मरीज आगरा के हैं. इसके बाद गौतमबुद्घ नगर (नोएडा) 62, मेरठ में 35, लखनऊ में 29, गजियाबाद में 23, मेरठ में 35, शामली में 17, सहारनपुर में 14 मरीज पाए गए हैं.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड की ताजा खबरें, 9 अप्रैल 2020 की बड़ी ब्रेकिंग न्यूज, पढ़ें न्यूज स्टेट पर

26 मरीज ठीक होकर गए घर

प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि 26 मरीजों का उपचार सफल रहा. पेशेंट पूलिंग का शासनादेश जारी कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि कई जिलों में एक से दो ही कोरोना पॉजिटिव मरीज का इलाज किया जा रहा है. ऐसे में यह देखने में आया है कि एक दो मरीजों के लिए पूरा मेडिकल सिस्टम प्रभावित होता है. इसी कारण मंडल कमिश्नर को यह आदेश दिया गया है कि जिन जिलों में एक से दो कोरोना पॉजिटीव पेशेंट का इलाज हो रहा हो तो उन्हें किसी एक ही बेहतर संसाधन वाले अस्पताल में शिट करा दिया जाए, जिससे मेडिकल सिस्टम पर अतिरिक्त दबाव ना पड़े. प्रसाद ने बताया कि अब तक सामने आए कोरोना पॉजिटिव केसों में 0 से 20 वर्ष वर्ग के 16 प्रतिशत, 21 से 40 वर्ष उम्र वर्ग के 44 प्रतिशत, 41 से 60 वर्ष उम्र वर्ग के 27 प्रतिशत और 60 से अधिक उम्र के 13 प्रतिशत लोग शामिल हैं.

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस फैलाने की साजिश रचने के शक में युवक की हत्या, जमात में हुआ था शामिल

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए यूपी सरकार और सख्त

वहीं बता दें कि कोरोना वायरस के लगातार मामले सामने आने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने अब और सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए योगी सरकार ने 15 जिलों को पूरी तरह से सील (Seal Lockdown) कर दिया है. इसमें लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर, वाराणसी, शामली शामिल है. इन जिलों में 13 अप्रैल तक कोई भी आवाजाही नहीं होगी. यहां तक की सामानों की होम डिलिवरी होगी, यानी कोई भी दुकान नहीं खुलेंगे. सिर्फ कर्फ्यू पास वालों को आने-जाने की इजाजत होगी.

यह भी पढ़ें- सफदरजंग अस्पताल की दो डॉक्टरों के साथ बदसलूकी, मामला दर्ज

इन जिलों को किया गया सील

लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, महाराजगंज, सीतापुर और सहारनपुर को 13 अप्रैल तक पूरी तरह से सील कर दिया गया है. 13 अप्रैल के बाद प्रदेश के हालात की समीक्षा की जाएगी. इसके बाद आगे के हालात पर फैसला लिया जाएगा. सील किए गए इलाकों में पूरी तरह होम डिलीवरी होगी, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी और डिलीवरी वाले कर्मचारी ही इन इलाकों में जा पाएंगे. यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि लोगों को किसी प्रकार की परेशानी न हो. इस संबंध में अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने संबंधित जिलों के डीएम और कमिश्नर को आदेश दिए हैं.

First Published : 09 Apr 2020, 08:36:15 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.