News Nation Logo
Banner

कोरोना संक्रमित डॉक्टर की लखनऊ में मौत, 15 स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी क्‍वारंटाइन

जिले के जरवल क्षेत्र के कोरोना संक्रमित एक निजी डॉक्टरर की बृहस्पतिवार को लखनऊ में इलाज के दौरान मौत हो गयी. जिले में कोरोना से संक्रमित किसी व्यक्ति की मौत का यह पहला मामला है.

Bhasha | Updated on: 12 Jun 2020, 03:39:42 PM
Corona Virus1

कोरोना संक्रमित डॉक्टर की लखनऊ में मौत (Photo Credit: File Photo)

बहराइच:

जिले के जरवल क्षेत्र के कोरोना संक्रमित एक निजी डॉक्टरर की बृहस्पतिवार को लखनऊ में इलाज के दौरान मौत हो गयी. जिले में कोरोना से संक्रमित किसी व्यक्ति की मौत का यह पहला मामला है. इसके अलावा बहराइच मेडिकल कालेज में भर्ती एक प्रवासी के कोविड-19 (Covid-19) जांच रिपोर्ट में संक्रमित पाए जाने पर वार्ड में कार्यरत अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉक्टर सहित 15 स्वास्थ्य कर्मियों को घर में पृथक-वास में भेज दिया गया है. वहीं रिसिया थाने के एक सिपाही में संक्रमण की पुष्टि के बाद पूरे थाने के अधिकारियों एवं पुलिस कर्मियों की कोरोना जांच कराई जा रही है.

यह भी पढ़ें : हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, शिक्षकों की भर्ती रोकने के एकल पीठ के आदेश पर लगाई रोक

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुरेश सिंह ने शुक्रवार को बताया कि जरवल निवासी 65 वर्षीय डॉक्टर जहीर आलम मधुमेह एवं हृदय रोग से पीड़ित थे. बुधवार को तबियत बिगड़ने पर डॉक्टर के परिजन ने उन्हें लखनऊ के ईरा मेडिकल कालेज में भर्ती कराया था. मेडिकल कॉलेज में हुयी कोरोना की जांच में संक्रमण की पुष्टि हुयी थी. बृहस्पतिवार को डॉक्टर की इलाज के दौरान मौत हो गयी मृतक डॉक्टर के निवास स्थान जरवल क्षेत्र के तकिया मोहल्ले को सील कर दिया गया है.

सीएमओ ने बताया कि मृतक के निकट संबंधियों की कोरोना जांच कराई जा रही है. उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार शाम तक बहराइच जिले के कोरोना संक्रमितों की संख्या 109 पहुंच चुकी थी. इनमें से 79 ठीक होकर घर जा चुके हैं, जबकि डॉक्टर जहीर की मृत्यु हुयी है. बृहस्पतिवार शाम तक कुल 30 लोग संक्रमण की चपेट में थे. सभी मरीज एल-1 श्रेणी के सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं.

यह भी पढ़ें : प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में वाराणसी में खुला 'कोरोना मॉल', जल्द ही हुआ लोकप्रिय

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. डी. के. सिंह ने बताया कि मेडिकल कालेज के वार्ड में भर्ती मेटकहा गांव के 22 वर्षीय एक प्रवासी मजदूर की रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि होने के बाद वार्ड में तीनों शिफ्टों में ड्यूटी करने वाले अस्थि रोग विशेषज्ञ, 9 स्टाफ नर्स और 5 वार्ड ब्वाय को घर में पृथक-वास में भेज कर उनके नमूने कोरोना जांच के लिए भेजे गये हैं.

उप पुलिस अधीक्षक नरेश सिंह ने बताया कि रिसिया थाने के एक सिपाही की बृहस्पतिवार रात को आई रिपोर्ट में उसमें संक्रमण की पुष्टि हुई. रिपोर्ट आते ही सिपाही को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एल-1 चिकित्सालय में भर्ती कराया. थाने को संक्रमणमुक्त किया जा रहा है. नियमानुसार थाने के सभी पुलिस अधिकारियों एवं पुलिस कर्मियों की कोरोना जांच कराई जाएगी.

First Published : 12 Jun 2020, 03:39:42 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो