News Nation Logo
Banner

कांग्रेस अध्यक्ष ने CM योगी कोयले का दाम कम करने के लिए लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सूबे के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की बदहाली पर पत्र लिखकर अवगत कराया और तत्काल प्रभाव से अनिमितताओं को दूर करने की मांग की.

By : Yogendra Mishra | Updated on: 10 Nov 2019, 04:54:14 PM
अजय कुमार लल्लू।

अजय कुमार लल्लू। (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सूबे के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की बदहाली पर पत्र लिखकर अवगत कराया और तत्काल प्रभाव से अनिमितताओं को दूर करने की मांग की. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भेजे गए पत्र में कहा कि सूबे में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की हालत बहुत खराब है.

यह भी पढ़ें- अयोध्या पर फैसले से कुछ नेताओं के पेट में होगा दर्द, दिग्विजय सिंह को बीजेपी का जवाब

सूबे के व्यापारी बाज़ार के दाम से अधिक मूल्य पर कोयला खरीदने पर मजबूर हैं. व्यापारियों को सही दाम पर कोयला न मिलने के कारण सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग को करीब 2000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. उन्होंने मांग की कि तत्काल प्रभाव से सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय में कोयले के टेंडर में अनिमितताओं को तत्काल दूर किया जाए.

यह भी पढ़ें- अयोध्या फैसलाः भोपाल में 5 लोगों पर रासुका की कार्रवाई तो 18 किए गए जिला बदर

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि प्रदेश सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग से जुड़े लोगों का कारोबार खत्म होने के कगार पर है. 16 हज़ार ईट भठ्ठे बंद होने के कगार पर हैं. करीब 40 हज़ार सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग आर्थिक बदहाली के दौर से गुजर रहा है.

यह भी पढ़ें- Ayodhya Verdict: मस्‍जिद के लिए 5 एकड़ जमीन लेने या न लेने का फैसला इस दिन करेगा सुन्नी वक्फ बोर्ड

लेकिन सरकार व्यापारियों के हितों को लेकर लगातार असंवेदनशील बनी हुई है. उन्होंने कहा कि सरकार की असंवेदनशीलता के चलते लाखों परिवारों की रोजी रोटी पर संकट खड़ा है. कांग्रेस पार्टी व्यापारियों के साथ सड़क से लेकर सदन तक लड़ाई लड़ने को तैयार है.

First Published : 10 Nov 2019, 04:54:14 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×