News Nation Logo
Banner

वाराणसी में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने बीजेपी पर आचार संहिता तोड़ने का लगाया गंभीर आरोप

आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा पीएम की फोटो लगी घड़ियां और सूटकेस बांटे जा रहे हैं. उप जिला निर्वाचन अधिकारी जांच की बात कही है

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 14 Mar 2019, 09:05:36 AM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

वाराणसी:

वाराणसी में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने बीजेपी पर आचार संहिता तोड़ने का गंभीर आरोप लगाए हैं.  पूर्व कांग्रेस विधायक अजय राय ने आरोप लगाया कि वोटर्स को प्रभावित करने के लिए प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में बीजेपी नेताओं द्वारा पीएम की फोटो लगी घड़ियां और सूटकेस बांटे जा रहे हैं. शिकायत के बाद उप जिला निर्वाचन अधिकारी जांच की बात कही है. वाराणसी के कई इलाकों में छोटी-छोटी दुकानों पर बीजेपी द्वारा बांटी गई घड़ी नजर आ रही है. इनमें वाराणसी के शिवाला, अस्सी, मैदागिन लहुराबीर कई इलाके शामिल हैं. दुकानदारों का कहना है कि कुछ लोग आये और घड़ी देकर चले गए. जिसमें बीजेपी का चित्र है. उन्होंने कहा कि घड़ी लीजिये और वोट हमें ही दीजिये.

यह भी पढ़ें - पेट्रोल के दामों में उछाल, डीजल में मिली राहत, जानें आज का नया रेट
पूर्व कोंग्रेसी विधायक और नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस के टिकट से चुनाव लड़ चुके अजय राय का आरोप है कि प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में बीजेपी नेताओं द्वारा पीएम की फोटो लगी घड़ियां और सूटकेस बांटे जा रहे हैं. यही नहीं बकायदा इनका सोशल मीडिया पर पोस्ट कर इसका प्रचार भी किया जा रहा है. अजय राय ने आरोप लगाया कि जिले की प्रमुख दुकानों पर पीएम की फोटो वाली घड़ियां लगाकर आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन किया जा रहा है. कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने उप जिला निर्वाचन अधिकारी अपर जिला मजिस्‍ट्रेट  से मुलाक़ात कर अपनी आपत्ति दर्ज कराई है.

यह भी पढ़ें -लोकसभा चुनाव : सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया ट्वीट तो अखिलेश यादव ने कही ये बड़ी बात

उधर समाजवादी पार्टी ने भी अपनी आपत्ति जताई है. सपा सरकार में राज्य मंत्री रह चुके और मौजूदा दौर में सपा के प्रवक्ता ने कहा कि गिफ्ट बांटकर और अपने सरकार के बैनर पोस्टर लगाकार खुलकर आदर्श आचार संहिता का उलंघन की जा रही है. हम निर्वाचन आयोग से अपील करेंगे कि वो कड़ी कार्रवाई करें. दूसरी तरफ बीजेपी का कहना है की विपक्ष के सारे आरोप निराधार हैं. जब विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है तो वे ये सब कर रहे हैं. घड़ी बांटने का जो आरोप लगाया जा  रहा है वो अचार संहिता लगने से पहले हमने बांटी है. उधर उप जिला निर्वाचन अधिकारी अपर जिला मजिस्‍ट्रेट (प्रशासन) का कहना है की शिकायत हमारे पास आयी है हमने जांच सौंपी है. अभी तक के जांच में ये बात सामने आयी है कि ये घड़ियां पहले बांटी गयी हैं जब अचार संहिता नहीं लगी थी. हम जांच कर रहे हैं जो भी होगा उसकी रिपोर्ट हम इलेक्शन कमीशन को भेजेंगे.

First Published : 14 Mar 2019, 09:05:24 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो