News Nation Logo

यूपी में कोरोना का कहर, 17 मई तक बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सीएम योगी (CM Yogi) ने प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) की अवधि को अब 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया है. इस दौरान लोगों के बेवजह घर से बाहर निकलने पर प्रतिबंध होगा. हालांकि आवश्यक सेवाओं को इससे बाहर रखा गया है. 

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 09 May 2021, 11:59:26 AM
CM Yogi

CM Yogi (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • ईद पर भी लागू रहेंगी पाबंदियां
  • बिना पास बाहर निकलने की इजाजत नहीं
  • कोरोना कर्फ्यू से कम हो रही संक्रमण दर

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में कोरोना (Coronavirus) की दूसरी लहर से हाहाकार मचा हुआ है. हर रोज हजारों की संख्या में नए मरीज सामने आने से स्वास्थ्य सेवाओं का हाल बेहाल हो चुका है. दूसरी लहर में यूपी के शहरों के साथ-साथ ग्रामीण इलाके भी प्रभावित हो चुके हैं. संक्रमण (COVID-19) को रोकने के लिए योगी सरकार (Yogi Government) ने कोरोना कर्फ्यू को एक सप्ताह और बढ़ाने का फैसला लिया है. सीएम योगी (CM Yogi) ने प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) की अवधि को अब 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया है. इस दौरान लोगों के बेवजह घर से बाहर निकलने पर प्रतिबंध होगा. हालांकि आवश्यक सेवाओं को इससे बाहर रखा गया है. 

ये भी पढ़ें- अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में कोरोना का कहर! दो हफ्ते में करीब 18 प्रोफेसर गंवा चुके हैं जान

ईद पर भी लागू रहेंगी पाबंदियां

प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की रफ्तार मेट्रो शहरों में धीमी हो रही है. यहां संक्रमण दर कम हो रहा है लेकिन अब धीरे-धीरे इसका प्रकोप छोटे शहरों में तेजी से बढ़ता दिख रहा है. पिछले एक हफ्ते के संक्रमण के आंकड़ों पर गौर करें तो यहां मामले बढ़ते जा रहे हैं. इसे देखते हुए योगी सरकार ने कोरोना कर्फ्यू को 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया है. इस अवधि में ईद का त्योहार भी है, हालांकि उस दिन में सारे प्रतिबंध लागू होंगे. इस दौरान बिना कोरोना कर्फ्यू पास के अनाधिकृत रुप से घर से निकलने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. 

8 दिनों में संक्रमण की दर में आई कमी

बता दें कि यूपी में 30 अप्रैल के बाद से ही आंशिक कोरोना कर्फ्यू है. इसका असर यह हुआ कि कोरोना के सक्रिय मामलों में 60 हजार की कमी आ गई है. पिछले एक हफ्ते से कुल संक्रमित रोगियों की संख्या में लगातार कमी दर्ज की जा रही है. 30 अप्रैल को जहां प्रदेश में 3.10 लाख से अधिक कोरोना संक्रमित थे वही, अब संक्रमित मरीजों की संख्या 2.54 लाख के आस-पास है. यानी 8 दिनों में ही प्रदेश में करीब 56 हजार से अधिक रोगी कम हो गए.

ये भी पढ़ें- ऑक्सीजन प्लांट से लेकर दवाएं और मास्क तक...दिल्ली को मिला विदेशों से आई मदद का बड़ा हिस्सा

पंचायत चुनाव से बढ़ा संक्रमण !

यूपी पंचायत चुनाव के कारण प्रदेश में कोरोना ने जमकर तांडव मचाया है. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 30 जनवरी 2020 से 4 अप्रैल, 2021 में 15 महीने की अवधि के बीच यूपी में कुल 6.3 लाख कोविड केसे दर्ज किए गए. 4 अप्रैल से देखें तो 30 दिनों में 8 लाख नए कोरोना मामले सामने आए जो कुल 14 लाख हो गए. इन 30 दिनों की अवधि में पंचायत चुनाव कराए गए. पंचायत चुनावों के नतीजों के बाद ऐसे ग्राम प्रधान उम्मीदवारों की सूची जारी की गई है, जिनकी मृत्यु इस दौरान हुई है. निर्वाचन आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक अब तक कुल 99 प्रधान प्रत्याशियों की जान जा चुकी है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 09 May 2021, 11:37:35 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.