News Nation Logo

पहले रामपुरी चाकू के जरिए होता था शोषण, आज दे रहा है सुरक्षा: सीएम योगी

Alok Pandey | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 04 Sep 2022, 10:29:33 PM
cm yogi

cm yogi adityanath (Photo Credit: file photo)

रामपुर:  

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधायक आजम खान और समाजवादी पार्टी का नाम लिए बिना दोनों पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि परियोजनाओं के जरिए शोषण करने वालों की आज दुर्गति हो रही है. रामपुरी चाकू पहले गलत हाथों में था, जिन्होंने इसको शोषण का जरिया बना लिया था. अब यही रामपुरी चाकू जब सकारात्मक हाथों में है, तो भाजपा की डबल इंजन सरकार ने सामान्य नागरिकों, महिलाओं, युवाओं और व्यापारियों को सुरक्षा देने के किए इस्तेमाल किया और निवेश का ज़रिया बनाया.

यह बातें उन्होंने रविवार को रामपुर में फिजिकल ग्राउंड में एक जनसभा के दौरान कहीं. इस दौरान उन्होंने 72 करोड़ रुपये की लागत से 22 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया. सीएम योगी लोकसभा उपचुनाव के बाद पहली बार किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में रामपुर पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि जिन लोगों के एजेंडे में विकास और लोक कल्याण नहीं है उन्होंने रामपुर का दोहन और शोषण किया. एक समय था जब विकास की परियोजनाएं गांव, गरीब, महिला, किसान, नौजवान और समाज की विभिन्न तबके को ध्यान में रखकर नहीं, बल्कि व्यक्ति केंद्रित बनाई जाती थीं, जो शोषण का जरिया बनती थी. अंततः आज ऐसा करने वालों की दुर्गति हो गई है. 

पांडुलिपियों के साथ खिलवाड़ करने की छूट हम किसी को नहीं दे सकते हैं: योगी

सीएम योगी ने कहा कि पिछली सरकारें स्वयं के हित के लिए योजनाएं बनाती थीं. यही कारण रहा कि राजकीय मुदुर्जा इंटर कॉलेज को एक पार्टी विशेष का कार्यालय बना दिया गया. बाद में उसे निजी स्कूल में बदल दिया गया. यहां के दो सौ वर्ष पुराने शैक्षणिक संस्थान मदरसा आलिया को एक निजी विद्यालय में बदल दिया गया था. उसके पुस्तकालय में मौजूद दुर्लभ हस्तलिखित पुस्तकों पर जबरन कब्जा करने का प्रयास किया गया. हमारी सरकार ने उन दुर्लभ पाण्डुलियों को मदरसा आलिया को वापस करते हुए उन्हें संरक्षित करने का कार्य किया है. इन पांडुलिपियों के साथ खिलवाड़ करने की छूट हम किसी को नहीं दे सकते हैं. 

रामपुर को विकास और समृद्धि से वंचित करने की साजिश पिछले 10-12 वर्षों से हो रही थी: सीएम

सीएम ने कहा कि पिछली सरकारों में यहां का सिटी मांटेसरी स्कूल कभी गेस्ट हाउस हुआ करता था, जहां असहयोग आंदोलन के दौरान रुककर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने देश की आजादी को एक नई दिशा देने का कार्य किया था. ऐसे ऐतिहासिक महत्व के संस्थान को हड़पने का कार्य किया गया था. सीएम योगी ने कहा कि सैकड़ों करोड़ रुपये के अन्य तमाम कार्य जो रामपुर के विकास के लिए महत्वपूर्ण थे, उनमें बाधा पैदा करके रामपुर को विकास और समृद्धि से वंचित करने की साजिश पिछले 10-12 वर्षों से हो रही थी. उन सभी साजिशों को बेनकाब करने के लिए मैं बार-बार रामपुर आता था.

विकास की योजनाएं रामपुर में बिना भेदभाव आएंगी: योगी

सीएम योगी ने कहा कि रामपुर की अपनी पौराणिक और ऐतिहासिक पहचान रही है, इस पहचान को हर हाल में बनाए रखने की आवश्यकता है. विकास और सुरक्षा के नाम पर रामपुर की जनता ने भाजपा को आशीर्वाद दिया. अब हर हाल में विकास की योजनाएं रामपुर में बिना भेदभाव के आएंगी. इनको कोई रोक नहीं सकता है. उन्होंने कहा कि आज रामपुर ने विकास, सुरक्षा और समृद्धि के साथ जुड़ते हुए एक नये युग की शुरुआत की है. राजा राम सिंह के नाम पर इस जनपद को जाना जाता है. हमारी सरकार ने उन्हीं के नाम पर पनबड़िया ओवर ब्रिज का नाम रखा है. 

आज रामपुर में कई विकास की योजनाएं देखने को मिल रही: सीएम

सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को विकास और स्वावलंबन का एक मंत्र दिया. वह मंत्र है सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास. विकास और समृद्धि में हर व्यक्ति की अपनी भागीदारी होती है. समाज जब अपनी भागीदारी करता है, तब विकास अमलीजामा पहना हुआ दिखाई देता है. उन्होंने कहा कि आज रामपुर में कई विकास की योजनाएं देखने को मिल रही हैं, जिन्हें देखकर लगता है कि रामपुर बदल रहा है. प्रधानमंत्री मोदी के विजन 'अमृत सरोवर' के कार्यक्रम का रामपुर में सफलतापूर्वक क्रियान्वयन किया गया. प्रधानमंत्री मोदी ने इसकी चर्चा मन की बात में करके रामपुर को एक नई पहचान दी है.

540 करोड़ रुपये का हुआ निवेश, 600 लोगों को प्रत्यक्ष और 4500 लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार मिला: योगी

सीएम योगी ने कहा कि आज सुरक्षा का बेहतर वातावरण बना, तो लोग उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए आ रहे हैं. विगत साढ़े पांच वर्ष के अंदर 3200 करोड़ रुपये से अधिक परियोजनाओं को हमारी सरकार ने पूरा किया है. इसमें सम्पर्क मार्ग, विभिन्न प्रकार की अन्य बुनियादी सुविधाओं से युक्त आम जनमानस से जुड़ी परियोजनाएं हैं, जो जनपद को एक नई ऊंचाई प्रदान करेंगी. 6500 करोड़ रुपये की लागत से तीन औद्योगिक इकाइयों की स्थापना से यहां के 1200 लोगों को रोजगागर मिल रहा है. विगत आठ वर्ष में रामपुर में 20 नई औद्योगिक इकाईयां स्थापित हुई हैं. इनमें 540 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है. इससे यहां पर 600 लोगों को प्रत्यक्ष और 4500 लोगों को अप्रत्यक्ष लोगों को रोजगार मिला है. ऐसे अनेक योजनाएं हम यहां लेकर आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि यहां का वायलिन, चाकू, जर्दोज़ी, टोपी, पतंग सहित हस्तशिल्प उद्योग से जुड़े ऐसे कार्यक्रम हैं, जिनको हमने विश्वकर्मा श्रम सम्मान और ओडीओपी के साथ जोड़ा है. इससे आज हम सब अधिक से अधिक रोजगार के अवसर पैदा हो रहे हैं.

33 निराश्रित बच्चियों को प्रदान की आर्थिक सहायता

सीएम योगी ने रामपुर में जनसभा को सम्बोधित करने से पहले बाल शिशु गृह का निरीक्षण किया और लाभार्थियों से बातचीत की. वहीं इसके बाद उन्होंने मंच पर 33 निराश्रित बच्चियों को आर्थिक सहायता प्रदान की. साथ ही मेधावी छात्राओं को टैबलेट देकर उन्हें सम्मानित किया. इसके अलावा सीएम योगी ने एक कुपोषित बच्ची को पोषण किट दिया और एक बच्ची को खीर खिलाकर अन्नप्राशन किया.

जनप्रतिनिधियों के साथ की बैठक

रामपुर पहुंचने के बाद सीएम योगी ने पुलिस लाइन में निर्माणाधीन आवासीय भवनों का निरीक्षण किया. इसके बाद उन्होंने पुलिस लाइन सभागार में जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की, जिसमें प्रदेश के पशुधन एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री धर्मपाल सिंह, माध्यमिक शिक्षा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गुलाब देवी, कृषि राज्य मंत्री बलदेव सिंह औलख, भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष अभय गुप्ता, जिला पंचायत अध्यक्ष ख्याली राम लोधी और मिलक की विधायक राजबाला शामिल रहीं.

First Published : 04 Sep 2022, 10:29:33 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.