News Nation Logo

प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में विपक्ष पर खूब बरसे सीएम योगी 

भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में शुक्रवार को सीएम योगी आदित्यनाथ विपक्ष पर जमकर बरसे. कार्यसमिति को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि हमें देश विरोधी विपक्ष का चेहरा बेनकाब करना होगा.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 16 Jul 2021, 07:38:59 PM
cm yogi

सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • देश विरोधी नारे लगाने वाले विपक्ष का चेहरा करना होगा बेनकाब 
  • आतंकवादियों के शुभचिंतक विपक्ष की नकारात्‍मकता से बचना होगा
  • लव जेहाद के खिलाफ हमने कदम उठाया तो विपक्ष को परेशानी हो रही

लखनऊ:

भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में शुक्रवार को सीएम योगी आदित्यनाथ विपक्ष पर जमकर बरसे. कार्यसमिति को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि हमें देश विरोधी विपक्ष का चेहरा बेनकाब करना होगा. आतंकवादियों के शुभचिंतक विपक्ष की नकारात्‍मकता से लोगों को बचाना होगा. उन्होंने कहा कि लव जेहाद के खिलाफ हमने कदम उठाया तो विपक्ष को परेशानी हो रही है. उन्‍होंने कार्यकर्ताओं को विपक्ष के भ्रम और छल से सतर्क रहने की नसीहत देते हुए बूथ स्‍तर पर पार्टी को और मजबूत बनाने का आह्वान किया है.
 
भाजपा प्रदेश कार्यालय में कार्यसमिति के मंच से सीएम योगी ने विपक्ष पर हमला जारी रखते हुए कहा कि हमें बताना होगा कि ये जो कह रहे हैं उसका मतलब क्‍या है. विपक्ष के फैलाए जा रहे भ्रम को दूर करना होगा. लोगों को विपक्ष की नकरात्मकता से बचाना होगा. याद रखिये कोरोना काल में ये चेहरे कहीं नहीं दिखाई दिए. ये लोग अपने-अपने स्तर पर सिर्फ भ्रम की स्थिति पैदा करके नकरात्मक स्थितियां पैदा कर रहे थे. विपक्ष राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर कैसे बयानबाजी कर रहा है. इसे लोगों को बताना होगा. मतांतरण के मुद्दे पर मूकबधिर बच्चों को टूल बनाकर, उन्हें अपनी ही व्यवस्था के खिलाफ खड़ा करके भयानक स्थितियां पैदा करने की कुत्सित चेष्टा कर रहे थे.
 
योगी ने कहा कि लखनऊ के आतंकवाद के मुद्दे पर कैसे बयानबाजी करते हैं. समाजवादी पार्टी की सरकार के समय में कचहरी ब्लास्ट, बिजनौर सीआरपी एफ कैम्प के हमलावरों के केस वापस करवाने वालों का कल आगरा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगवाना इनके चरित्र और चेहरे को उजागर करता है. लव जिहाद कर खिलाफ हमने कदम उठाया तो इनको परेशानी हो रही है. हमको लोगों को बताने की जरूरत है कि ये जो कह रहे हैं वो क्या है, हमें इनके चेहरे बेनकाब करने होंगे.

योगी ने कहा कि 4 वर्ष पहले गांव गरीब किसान, नौजवान, महिलाएं सरकार के एजेंडे में नहीं होते थे. ये सिर्फ वोट बैंक तक सीमित होते थे, लेकिन इनके लिए जो योजनाएं बनीं उसका परिणाम सामने आ रहा है. आज एक क्लिक पर पैसा गरीब के खाते में जा रहा है. बैंक में भीड़ होती है, हमने किसी की जाति और मजहब नहीं देखा. सबको आवास, सबको समान विद्युत आपूर्ति हो रही है. 1 लाख 21 हजार गांवों तक विद्युतीकरण किया गया. आज़ादी के बाद से अब तक इतना कभी नहीं हुआ था. सड़कों का जाल बिछा, वरना उत्तर प्रदेश के बारे में कहा जाता था जहां से गड्ढे शुरू हों वो उत्तर प्रदेश है. जहां अंधेरा शुरू हो वहीं उत्तर प्रदेश था, लेकिन प्रदेश वही है, सिस्टम वही है. सरकार में चेहरे बदले और कार्य सम्पन्न हुए. उत्तर प्रदेश के बारे में देश में छवि बनी कानून व्यवस्था का मानक तय हुआ.
 
सीएम ने कहा कि आज प्रदेश में निवेश का माहौल है. मुंबई से से ढाई लाख करोड़ का निवेश लेकर आ गए. आज उद्योगपति कहते हैं कि 5 साल पहले हम यहां आना नहीं चाहते थे, लेकिन अब हम यहां निवेश करना चाहते हैं. इसी निवेश के माध्यम से डेढ़ करोड़ रोजगार हमने उपलब्ध करवाए. 4 लाख से ज्यादा सरकारी नौकरी दी गई. सिर्फ योग्यता पर नियुक्तियां मिलीं. यही चीजें दिखाती हैं कि पारदर्शी व्यवस्था क्या होती है.
 
पंचायत चुनाव में पार्टी की शानदार जीत पर सीएम योगी ने कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए कहा कि ये सामान्‍य चुनाव नहीं था. इतने शांतिपूर्ण तरीके से ये चुनाव सम्पन्न हुए इसकी तारीफ हर जनमानस कर रहा है. पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने एक मजबूत संगठन की पहचान बना कर रखी. लगभग 7 लाख ग्राम पन्चायत सदस्य, 70 हजार से ज्यादा अन्य प्रतिनिधि, 3 हजार से ज्यादा जिला पंचायत सदस्य चुने गए.

करीब 16 महीने से महामारी से मानवता जूझ रही है पहली लहर में प्रधानमंत्री जी द्वारा जो प्रबन्धन किया गया वो बेहतर माना गया, दूसरी वेव अचानक आई, उसमें भी कोविड प्रबन्धन के बेहतरीन कार्य हुए, जीवन को बचाने के लिए टेस्ट, ट्रीट, ट्रेस के कार्य किए गए. मार्च 2020 में जब पहला केस आया तो हमारे पास टेस्ट की क्षमता नहीं थी, जबकि आज हम 4 लाख टेस्ट प्रतिदिन कर रहे हैं.

उत्तर प्रदेश ऐसा पहला राज्य है जिसने 6 करोड़ से ज्यादा टेस्ट किए. कोरोना प्रबन्धन में निगरानी समितियों द्वारा जो ग्रामीण,नगरीय क्षेत्र में कार्य हुए वो अद्भुत हुए. 72 हजार निगरानी समितियों के माध्यम से मास्क, सेनेटाइजर उपलब्ध करवाए गए. कोरोना काल में प्रबंधन के लिए प्रधानमंत्री द्वारा आत्मनिर्भर पैकेज, विकलांग, दिव्यांग के पेंशन,खाद्यान्न वितरण सबका बेहतरीन प्रबंधन हुआ.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 16 Jul 2021, 07:38:59 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.