News Nation Logo

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री करेंगे रामलला के दर्शन, हिन्दू महासभा करेगी विरोध!

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे शनिवार को (आज)अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए आ रहे हैं. राज्य में उनकी सरकार के सौ दिन पूरे होने के मौके पर जहां एक ओर वह यहां आकर रामलला दरबार में माथा टेकेंगे.

IANS | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 07 Mar 2020, 12:56:49 PM
uddhav thackeray

उद्धव ठाकरे। (Photo Credit: फाइल फोटो।)

लखनऊ:

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे शनिवार को (आज)अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए आ रहे हैं. राज्य में उनकी सरकार के सौ दिन पूरे होने के मौके पर जहां एक ओर वह यहां आकर रामलला दरबार में माथा टेकेंगे, वहीं अखिल भारतीय हिन्दू महासभा ने उद्धव के इस दौरे का विरोध करने का ऐलान किया है. अखिल भारत हिन्दू महासभा के जिला अध्यक्ष राकेश दत्त मिश्रा ने बातचीत में कहा, "पहले शिवसेना हिन्दू रक्षक थी, लेकिन सत्ता के लालच में राकांपा (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी) और कांग्रेस के साथी बन बैठी. यह वही कांग्रेस है, जिसने राम मंदिर निर्माण को लेकर तमाम प्रकार की अड़चने पैदा करने का प्रयास किया. इसलिए हम (मुख्यमंत्री उद्धव) ठाकरे को पंचशील होटल से बाहर नहीं निकलने देंगे. यदि वह बाहर आते हैं, तो हमारे 250 कार्यकर्ता उन्हें काले झंडे दिखाकर अपना विरोध दर्ज कराएंगे."

उन्होंने आगे कहा, "मुझे फिलहाल मेरे आवास पर नजरबंद कर दिया गया है, लेकिन हमारे कार्यकर्ता पूरी तैयारी के साथ वहां जाकर विरोध करेंगे."

यह भी पढ़ें- यस बैंक संकट पर SBI ने कहा '49 प्रतिशत शेयर खरीदने की योजना'

शिवसेना प्रवक्ता व सांसद संजय राउत, मुख्यमंत्री के आगमन कार्यक्रम को लेकर अयोध्या में पहले से हैं. विरोध के बाबत पूछे जाने पर राउत ने कहा, "मैं बीते पांच दिनों से अयोध्या में हूं. कहीं कोई विरोध नजर नहीं आ रहा है. कोई विरोध करना चाहता है, तो वह उसकी भूमिका है. लोकतंत्र में सभी को विरोध करने का अधिकार है."

संजय राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे लखनऊ से होते हुए अयोध्या आएंगे. वे दोपहर बाद करीब दो बजे यहां पहुंच जाएंगे. इसके बाद शाम 4:30 बजे वह पूरे परिवार के साथ रामलला के दर्शन करेंगे.

यह भी पढ़ें- जेपी नड्डा होली के बाद घोषित कर सकते हैं भाजपा की नई राष्ट्रीय टीम

गौरतलब है कि रामलला के दरबार में माथा टेकने के बाद उद्धव ना तो सरयू आरती करेंगे और ना ही किसी प्रकार की जनसभा में शामिल होंगे. कोरोनावायरस के बढ़ते खतरे को लेकर दोनों कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान के बाद भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों को रद्द किया गया है. मुख्यमंत्री योगी ने भी भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों से बचने की अपील की थी.

यह भी पढ़ें- जानिए आखिर क्या है आसमान से गिरने वाला उल्का पिंड?

उन्होंने कहा, "सबका आह्वान है कि भीड़भाड़ वाले कार्यक्रम से बचा जाए. उद्धव जी से बात हुई है, सरकार की तरफ से जो गाइडलाइन मिली है, उसका अनुपालन होगा. सरयू आरती स्थगित कर दी गई है. शिवसेना के करीब दो हजार कार्यकर्ता व सांसद, विधायक भी अयोध्या पहुंच रहे हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ठाकरे राममंदिर निर्माण के लिए कुछ बड़ा ऐलान कर सकते हैं."

उधर एडीएम सिटी वैभव ने कहा, "विरोध वाली अभी कोई बात सामने नहीं आई, यहां पर कोई दिख नहीं रहा है. किसी को भी कानून व्यवस्था खराब करने नहीं दिया जाएगा."

First Published : 07 Mar 2020, 12:56:49 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.