News Nation Logo

बाहुबली सांसद अतीक अहमद को गुजरात से यूपी आने में लग रहा डर, वीडियो कांफ्रेंसिंग से मुकदमे की सुनवाई की मांग की

बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद से जुड़ी बड़ी खबर आ रही है. बाहुबली को पेशी पर गुजरात से यूपी आने में डर लग रहा है. बाहुबली ने वकील के जरिए वीडियो कांफ्रेंसिंग से मुकदमे की सुनवाई की मांग की.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 23 Oct 2020, 06:26:49 AM
बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद

बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद (Photo Credit: फाइल फोटो)

प्रयागराज:

बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद से जुड़ी बड़ी खबर आ रही है. बाहुबली को पेशी पर गुजरात से यूपी आने में डर लग रहा है. बाहुबली ने वकील के जरिए वीडियो कांफ्रेंसिंग से मुकदमे की सुनवाई की मांग की. सुप्रीम कोर्ट के 23 अप्रैल 2019 के आदेश से गुजरात के अहमदाबाद जेल में बंद है. बाहुबली ने अपने जीवन को गंभीर खतरा बताया है. राजनीतिक विरोधियों और पुलिस के अधिकारियों पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है. वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई के लिए प्रयागराज से अहमदाबाद की 1450 किलोमीटर दूरी का भी हवाला दिया है. बाहुबली ने कहा कि कोर्ट के आदेश की आड़ में प्रार्थी की हत्या कर दी जाएगी. बाहुबली किडनी और रीढ़ की हड्डी की गंभीर बीमारी से पीड़ित है. शुगर टाइप वन का गंभीर रोगी और हाई ब्लड प्रेशर से भी पीड़ित है. 

इसी आधार पर नैनी से अहमदाबाद हवाई सेवा से स्थानांतरित किया गया था. बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद ने  आरोप लगाया है. जेल में बयान लेने गए एक पुलिसकर्मी ने जानकारी दी है. प्रार्थी को न्यायिक अभिरक्षा में तलब कर रास्ते में हत्या की साजिश रची जा रही है. इससे पूर्व न्यायिक अभिरक्षा में आवागमन के दौरान कई बंदियों की हत्या हो चुकी है. वर्ष 2019 में मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में विरोधियों से मिलकर पुलिस और एसटीएफ ने हत्या करा दी थी. बाहुबली अतीक ने वकील के माध्यम से अर्जी देकर लंबित मुकदमों में तलब न किए जाने का आदेश पारित करने की मांग की है. 

अर्जी में कोविड-19 चलते भी गुजरात राज्य से समन न किए जाने की मांग की गई है. एमपी एमएलए स्पेशल कोर्ट के जज डॉ बालमुकुंद ने अर्जी पर सुनवाई की है. एमएलए कोर्ट ने अतीक अहमद की पत्रावली साक्ष्य के लिए 4 नवंबर को पेश करने का निर्देश दिया है. एमपी एमएलए कोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुविधा मौजूद नहीं है. वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुविधा उपलब्ध कराए जाने का जिला जज से किया अनुरोध. 4 नवंबर को 10:30 बजे कोर्ट में गवाह कांस्टेबल महेश प्रसाद दीक्षित की दोबारा गवाही कराने का निर्देश.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 23 Oct 2020, 06:26:49 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो