News Nation Logo

BREAKING

Banner

Ayodhya Case: बाबा रामदेव ने फैसले का किया स्वागत, कहा 'राम का वनवास खत्म हुआ'

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले का योग गुरु बाबा रामदेव ने स्वागत किया है. ग्रेटर नोएडा में बाबा रामदेव ने अपनी बात कही.

By : Yogendra Mishra | Updated on: 09 Nov 2019, 02:01:33 PM
बाबा रामदेव।

बाबा रामदेव। (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

अयोध्या मामले (Ayodhya Case) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अपना फैसला सुना दिया है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले का योग गुरु बाबा रामदेव (Baba Ramdev) ने स्वागत किया है. ग्रेटर नोएडा में बाबा रामदेव (Baba Ramdev) ने अपनी बात कही. उन्होंने कहा कि भगवान राम का वनवास आज खत्म हो गया है. अब यह तय हो गया है कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा. बाबा राम देव ने कहा कि इस फैसले को सभी को सहर्ष स्वीकार करना चाहिए. साथ ही अराजक तत्वों से भी बच कर रहना चाहिए. बाबा रामदेव ने कहा कि इस फैसले को किसी भी पक्ष को हार-जीत के रूप में नहीं देखना चाहिए.

यह भी पढ़ें- Ayodhya Case: 5 प्वाइंट्स में जानिए मस्जिद को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा

देश के सांप्रदायिक सौहार्द को बनाए रखने के लिए जरूरी है कि किसी भी तरह का जश्न या विरोध न हो. मर्यादा पुरुषोत्तम राम के मामले में फैसला आया है और हमें राम के जीवन की तरह ही मार्यादित स्वभाव दिखाना चाहिए. आपको बता दें कि शनिवार को सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संविधान पीठ ने 2.77 एकड़ जमीन रामलला को सौंपने के पक्ष में फैसला सुनाया.

यह भी पढ़ें- Ayodhya Verdict: इन 7 प्वाइंटस में जानिए अयोध्या मामले का फैसला 

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली इस बेंच में जस्टिस एस.ए. बोबडे, जस्टिस डी.वाई. चंद्रचूड, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस अब्दुल नजीर शामिल हैं. इस मामले पर फैसला सुनाते हुए चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि इस बात के सबूत मिले हैं कि भगवान राम विवादित स्थल पर जन्मे थे. कोर्ट ने यह भी माना कि मस्जिद के नीचे पहले से एक ढांचा मौजूद था. मस्जिद के नीचे मौजूद अवशेष इस्लामिक नहीं था.

First Published : 09 Nov 2019, 01:55:42 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Ayodhya Ayodhya Case