News Nation Logo
Banner

'9 लाख घर दिए इसलिए सरयू तट पर 9 लाख दिए जलाए'

अयोध्या में सरयू तट पर खड़े होकर इसकी लहरों की लय में उतावलापन महसूस किया जा सकता है. यह व्यग्रता यहां पांचवें दीपोत्सव की छटा को देखने की हैं। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर वर्ष 2017 से शुरू हुए इस दीपोत्सव को अब पूरी दुनिया देखती है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 03 Nov 2021, 06:41:24 PM
cm yogi

अयोध्या में दीपावली पर आज निकाली जा रही शोभायात्रा (Photo Credit: ayodhya deepotsav 2021)

अयोध्या:  

अयोध्या में सरयू तट पर खड़े होकर इसकी लहरों की लय में उतावलापन महसूस किया जा सकता है. यह व्यग्रता यहां पांचवें दीपोत्सव की छटा को देखने की हैं। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर वर्ष 2017 से शुरू हुए इस दीपोत्सव को अब पूरी दुनिया देखती है. आज यहां आने वाले हर श्रद्धालु की अभिलाषा रामलला के दर्शन के बाद भगवान श्रीराम का बन रहा भव्य मंदिर और शाम को शुरू होने वाले दीपोत्सव की छटा को निहारने की होती हैं. अयोध्या के दीपोत्सव के मुरीद अब पूरे संसार में हो गए हैं, इसे देखने के लिए अब देश विदेश से लाखों श्रद्धालु अयोध्या पहुंचने लगे हैं। अब यहां आकर हर श्रद्धालु जहां एक तरफ राममंदिर के निर्माण को लेकर गोरखनाथ पीठ की तीन पीढ़ियों के संघर्ष को जान पा रहा है। दूसरी तरफ लोग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा संवारी जा रही अयोध्या को देख पा रहे हैं।

अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर स्थल को देखने के साथ ही श्रद्धालुओं के लिए यहां स्थापित की जाने वाली भव्य राम प्रतिमा भी एक आकर्षण का केंद्र हैं। यह प्रतिमा दुनिया की किसी भी दूसरी प्रतिमा से अधिक ऊंची होगी। इसके लिए सरयू पर देश का सबसे लंबा घाट बन रहा है।

कई दशकों से अयोध्या पर पैनी नजर रखने वाले राजेन्द्र कुमार कहते हैं कि अयोध्या और गोरक्ष पीठ का रिश्ता पुराना एवं आत्मीय है। योगी के दादा गुरु ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ ने इसकी शुरूआत की थी। योगी जी के पूज्य गुरुदेव अवेद्यनाथ ने राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष के रूप में वर्षो तक राम मंदिर आंदोलन को रणनीति, दिशा और धार दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के एजेंडे में अयोध्या सर्वोपरि है। अपने अब तक के कार्यकाल में वह अयोध्या की 30 बार अयोध्या आए है। उनके कार्यकाल की हर दिवाली में यहां असाधारण दीपोत्सव आयोजित हुए। अयोध्या, सरयू और साधु-संत गदगद हैं। रामनगरी में योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता जाति और धर्म से परे है। वह नई अयोध्या के नए नायक बताए जा रहे हैं। यहां के तमाम लोगों का तो यह भी कहना है कि भगवान राम की अयोध्या को मुख्यमंत्री योगी संवार रहें हैं। यह अयोध्या तो अब योगी की अयोध्या हो गई है। जल्दी ही योगी की यह अयोध्या यूपी की अर्थव्यवस्था का नया केंद्र बनेगी।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि आज इसकी एक झलक को लेकर अयोध्या को दुनिया की सबसे अच्छी आध्यात्मिक और धार्मिक नगरी के साथ-साथ तकनीकी और भौतिक विकास की नई बुलंदियों तक पहुंचाने के उद्देश्य से भाजपा सरकार आप सबके सामने आई है. उन्होंने कहा कि उत्साह और उमंग का यह दीपावली पर्व ऐसे ही असीम उत्साह को लेकर हमारे बीच हर वर्ष आता रहे.

पंचम दीपोत्सव पर सीएम योगी ने कहा कि दिवाली का ये उमंग उत्साह सभी की जीवन में बना रहे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमनें उत्तर प्रदेश में 9 लाख लोगों को घर दिए हैं. 

'9 लाख घर दिए इसलिए सरयू तट पर 9 लाख दिए जलाए'

अयोध्या में 12 लाख दिए जलाने का बना विश्व रिकॉर्ड

दीयों की रोशनी से जगमगाई अयोध्या नगरी, दीपोत्सव का विश्व रिकॉर्ड

सीएम योगी ने कहा कि पहले लोग बोलते थे, परिंदा भी पर नहीं मार सकता था. 31 साल पहले हुआ था, वह मंजर कोई रामभक्त और कोई अयोध्यावासी उसे कभी भूल नहीं सकता है. सबसे बड़ा है श्रीराम की मर्यादा के अनुरूप धैर्य, जिससे हमें सफलता मिली है. 2019 के कार्यक्रम में भी मैंने यही अनुरोध किया था कि धैर्य के साथ इंतजार करिये, अयोध्या में वह सब होगा जो आपकी भावनाएं हैं.

पिछली सरकारों में ये पैसा कब्रिस्तान की दीवार बनाने में खर्च होता था, आज मंदिरों के पुनर्निर्माण और सुंदरीकरण पर खर्च हो रहा है. जिन्हें कब्रिस्तान प्यारा था, वो जनता का पैसा वहां लगाते थे। जिन्हें धर्म और संस्कृति प्यारी है, वो पैसा उनके उत्थान के लिए लगा रहे हैं.

2023 तक राम मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा: CM योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आप देखना कि अगर अगली कारसेवा होगी, तो गोली नहीं चलेगी- रामभक्तों व कृष्णभक्तों पर पुष्पों की वर्षा होगी.

जो लोग 31 साल पहले रामभक्तों पर गोलियां चला रहे थे, वो आपकी ताकत के आगे झुके हैं. अब लगता है कि अगर कुछ और वर्ष आप इसी तरीके से ले चले, तो अगली कारसेवा के लिए वो और उनका पूरा खानदान लाइन में लगा होगा.

सीएम योगी ने कहा कि 31 साल पहले अयोध्या में क्या हो रहा था. 30 अक्टूबर और 2 नवंबर 1990 को रामभक्तों पर बर्बर तरीके से गोलियां चलाई गईं थीं। बर्बर लाठीचार्ज हो रहा था. तब 'जय श्रीराम' बोलना अपराध माना जा रहा था.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुझे याद है कि 2017, 2018, 2019 में भी एक ही नारा गूंज रहा था- 'योगी जी एक काम करो, मंदिर का निर्माण करो.' 

पांच वर्ष पहले अयोध्या में दीपोत्सव की चर्चा सामने आई थी, तो अयोध्या में ही आज के दिन ये आयोजन नहीं हो रहा था। हमारी सरकार ने तय किया कि अगर अयोध्या को उसकी नई पहचान दीपोत्सव कार्यक्रम से माध्यम से दिलवानी है.

सीएम योगी ने कहा कि  आज अयोध्या में दीपोत्सव का पूरी दुनिया में एक नया रिकॉर्ड बनेगा.

दीपोत्सव पूरी दुनिया के लिए सबसे खास कार्यक्रम: CM योगी आदित्यनाथ

भारत में वियतनाम, केन्या और त्रिनिदाद और टोबैगो के राजदूत अयोध्या में दिवाली समारोह के दौरान भगवान राम, भगवान लक्ष्मण और देवी सीता के किरदार निभाने वाले कलाकारों का 'राजतिलक' किया.


दीपोत्सव से पहले अयोध्या में राम झांकी निकाली जा रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने झांकी का स्वागत किया. हेलीकॉप्टर से राम और सीता का आगमन हुआ है.

लेजर लाइट शो में होंगे रामायण के प्रसंग

दीपोत्सव के दिन भव्य कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा.  लेजर शो के जरिए भगवान राम और माता सीता के जीवन से जड़े रामायण के अनेक प्रसंगों को प्रदर्शित किया जाएगा. इसके लिए पांच कंपनियां तैयारियों में जुटी हुई हैं. विभिन्न मंच तैयार कर यहां पर भगवान राम से जुड़े दृश्यों को संजीव करने की कोशिश होगी. बुधवार की शाम को कई भव्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा.  

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने शोभायात्रा को दिखाई हरी झंडी

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने शोभायात्रा को दिखाई हरी झंडी


अयोध्या में राम की पैड़ी पर अवध यूनिवर्सिटी के छात्रओं ने रंगोली बनाई.

अयोध्या में राम की पैड़ी पर अवध यूनिवर्सिटी के छात्रओं ने रंगोली बनाई.


अयोध्या में आज ये होंगे कार्यक्रम

10 बजे से 2.15 बजे तक - शोभायात्रा


2.15 बजे से 2.30 बजे तक - योगी आदित्यनाथ का आगमन


2.50 बजे से 3 बजे - हैलीपेड पर राम और सीता का आगमन, भरत मिलाप


3.05 बजे से 3.15 बजे - रामकथा पार्क में फोटो प्रदर्शनी का शुभारंभ करेंगी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ


3.15 बजे से 3.35 बजे - प्रभु श्रीराम का राज्याभिषेक और राम जानकी का पूजन


3.35 बजे से 5.15 बजे - अयोध्या में विभिन्न प्रोजेक्ट का शुभारंभ, अयोध्या पर तीन किताबों का विमोचन


5.20 बजे से 5.45 बजे - सरयू आरती


6 बजे से 6.30 बजे - राम की पैड़ी पर 9 लाख और अयोध्या में कुल 12 लाख दिए प्रज्व्वलन


6.30 बजे से 7.05 बजे - 3डी होलोग्राफिक शो, रामायन पर लेजर शो


7.05 बजे से 7.20 बजे - योगी आदित्यनाथ का संबोधन


7.40 बजे से 7.50 बजे - लेजर शो और आतिशबाजी 


8.30 बजे से 9.15 बजे - श्रीलंका के कलाकारों द्वारा रामलीला का आयोजन   

First Published : 03 Nov 2021, 12:11:29 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.