News Nation Logo
Banner

आशीष मिश्रा पर अखिलेश यादव का Tweet- खबरदार रहना जुल्मी हुकूमत की सियासत से...

लखीमपुर खीरी कांड में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है. हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने पहले ही इस मामले की सुनवाई पूरी कर ली थी.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 10 Feb 2022, 06:15:15 PM
akhilesh yadav

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्ली:  

लखीमपुर खीरी कांड में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है. हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने पहले ही इस मामले की सुनवाई पूरी कर ली थी. उन पर लखीमपुर खीरी में किसानों पर कार चढ़ाकर मारने का आरोप है. वे शुक्रवार को जेल से बाहर आ सकते हैं. आशीष मिश्रा की जमानत पर सियासत तेज हो गई है. उनकी जमानत पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने ट्वीट कर सरकार पर हमला बोला है. 

यह भी पढ़ें : भगोड़े विजय माल्या की मुश्किलें बढ़ीं, SC ने दिया आखिरी मौका

आशीष मिश्रा को जमानत मिलने के बाद अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए ट्वीट किया कि ख़बरदार रहना ज़ुल्मी हुकूमत की सियासत से उनके पाले-पोसे बाहर आ रहे हैं… हिरासत से. आपको बता दें कि अक्टूबर 2021 के लखीमपुर खीरी हिंसा मामले की जांच कर रहे विशेष जांच दल (SIT) ने करीब 5,000 पन्नों का आरोप पत्र दाखिल किया है. इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को आरोपी बनाया गया है, उन्हें पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. 

यह भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी कांड : गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष को मिली जमानत

इसके अलावा, मामले में आरोपियों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है, क्योंकि एक और नाम जोड़ा गया है. अभियोजन पक्ष के वकील ने कहा था कि एक और व्यक्ति वीरेंद्र शुक्ला का नाम आरोप पत्र में जोड़ा गया है. उस पर आईपीसी की धारा 201 के तहत आरोप लगाया गया है. लखीमपुर खीरी हिंसा की घटना में कुल आठ लोग मारे गए थे. मरने वालों में चार किसान, एक पत्रकार, दो भाजपा कार्यकर्ता और एक ड्राइवर शामिल हैं. 

First Published : 10 Feb 2022, 05:44:51 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.