News Nation Logo
Banner

शिवपाल और आजम की बजाय अखिलेश ने राम गोविंद को चुना विधानसभा का नेता प्रतिपक्ष

राम गोविन्द चौधरी को विधानसभा में विपक्ष का नेता बनाया है।

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Singh | Updated on: 27 Mar 2017, 10:46:37 PM
राम गोविंद चौधरी (फोटो: ANI)

राम गोविंद चौधरी (फोटो: ANI)

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में बुरी तरह हारने के बाद समाजवादी पार्टी ने 8वीं बार विधायक चुने गए राम गोविन्द चौधरी को विधानसभा में विपक्ष का नेता बनाया है। सपा प्रवक्ता राजेन्‍द्र चौधरी ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रामगोविन्द को विधायक दल का नेता मनोनीत किया है।

 राम गोविन्द चौधरी को अखिलेश यादव का करीबी माना जाता है। इसलिए ही आजम खां और शिवपाल यादव जैसे नेताओं की जगह उन्हें वरीयता दी गई। राजेन्‍द्र चौधरी ने यह भी बताया कि कल सपा विधानमण्डल दल की बैठक होगी, जिसकी अध्यक्षता पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव करेंगे।

इसे भी पढ़ें: न्याय के लिए योगी के घर पहुंचे भाई-बहन, सीएम ने हत्यारे को पकड़ने का दिया आदेश

कौन है राम गोविन्द चौधरी

आठ बार के विधायक राम गोविन्द चौधरी वर्ष 1977 में पहली बार तत्कालीन चिलकहर सीट से जनता पार्टी के टिकट पर विधायक चुने गये थे। छात्र नेता के रूप में अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत करने वाले करीब 70 वर्षीय राम गोविन्द राज्य की पूर्ववर्ती अखिलेश यादव सरकार में बेसिक शिक्षा मंत्री तथा बाल विकास एवं पुष्टाहार मंत्री रहे। सपा के मौजूदा विधायकों में वह सबसे वरिष्ठ हैं।

इसे भी पढ़ें: यूपी विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद सपा ने बदला नारा

बता दें कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ने वाली सपा को मात्र 47 सीटें हासिल हुई थीं।

First Published : 27 Mar 2017, 08:08:00 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Ram Govind Chaudhary
×