News Nation Logo

लुलु मॉल में घुसने की कोशिश के बाद हिरासत में लिए गए जगत गुरु परमहंस

Anil Yadav | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 19 Jul 2022, 08:25:27 PM
Shankracharya pramhans 2

लुलु मॉल में घुसने की कोशिश के बाद हिरासत में लिए गए जगत गुरु परमहंस (Photo Credit: News Nation)

लखनऊ:  

लखनऊ के लुलु मॉल में कुछ युवकों के नमाज पढ़ने का वीडियो वायरल होने के बाद हिंदूवादी संगठनों के विरोध प्रदर्शन का दौर जारी है. इसी कड़ी में सोमवार को लुलु मॉल में शुद्धिकरण के लिए पहुंचे जगद्गुरु परमहंस को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. इस दौरान लखनऊ पुलिस और जगद्गुरु परमहंस के बीच जमकर कहासुनी हुई. इसके बाद जगद्गुरु परमहंस को पुलिस अपने साथ लेकर गई. बताया जा रहा है कि उन्हें हिरासत में लेने के बाद पुलिस उन्हें एक के बाद एक अज्ञात स्थानों पर ले जा रही है. पुलिस पहले जगतगुरु को अहिमामऊ पुलिस चौकी पर ले गई, लेकिन जैसे ही वहां न्यूज नेशन और न्यूज स्टेट की टीम पहुंची तो तमाम आला अधिकारी अहिमामऊ चौकी पहुंच गए और वहां से जगतगुरु को किसी दूसरे गुप्त स्थान के लिए लेकर चली गई. 

जगतगुरु बोले, शॉपिंग करने जा रहे थे, पुलिस उठाकर ले आई
पुलिस जब जगतगुरु को अहिमामऊ पुलिस चौकी से शिफ्ट करने के लिए ले जा रही थी, उसी वक्त न्यूज नेशन ने उनसे बात की तो जगत गुरु ने कहा कि वह लुलु मॉल में शॉपिंग करने जा रहे थे. उन्होंने कहा कि अंग वस्त्र खरीदने को लिए मैं मॉल में जा रहा था, लेकिन उन्हें नहीं घुसने दिया गया और पुलिस अपने साथ लेकर चली आई.

सीएम योगी ने प्रदर्शनकारियों से सख्ती से निपटे के लिए आदेश
लूलू मॉल में नमाज के बाद चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कुछ लोग अनावश्यक टिप्पणी कर रहे हैं और लोगों की आवाजाही में बाधा डालने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं. लखनऊ प्रशासन को इस मामले को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए. इस तरह के उपद्रव पैदा करने की कोशिश करने वाले बदमाशों से सख्ती से निपटा जाना चाहिए. 

मॉल में नमाज अदा करने के मामले में चार युवक गिरफ्तार
लूलू मॉल में नमाज पढ़ने वाले चार नमाजियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस की जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए सभी युवक मुसलमान हैं. उनकी पहचान मोहम्मद रेहान, आतिफ खान, मोहम्मद लुकमान और मोहम्मद नोमान के रूप में हुई है. ये सभी लखनऊ के इंदिरा नगर के रहने वाले हैं. उनसे पूछताछ की जा रही है. शुरुआती पूछताछ में युवकों ने बताया कि वे मॉल में थे और नमाज का वक्त हो गया था. लिहाजा, वे नमाज अदा करने बैठ गए. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि हम घटना के पीछे के मकसद का पता लगाने के लिए उनसे पूछताछ कर रहे हैं कि क्या उनका मकसद कानून-व्यवस्था की स्थिति को बिगाड़ने की कोई साजिश थी.

यह भी पढ़ेंः पैगम्बर टिप्पणी विवादः सुप्रीम कोर्ट से Nupur Sharma को मिली बड़ी राहत, गिरफ्तारी पर रोक !

गौरतलब है कि इस घटना के बाद हिंदूवादी संगठनों ने मॉल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का दौर शुरू कर दिया था. इसके बाद  मॉल में  हनुमान चालीसा का पाठ करने और सद्भाव बिगाड़ने के नारे लगाने के आरोप में 4 लोगों सरोज नाथ योगी, कृष्ण कुमार पाठक, गौरव गोस्वामी और अरशद अली को 15 जुलाई को सांप्रदायिकता सौहार्द बिगाड़ने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. आरोप है कि योगी, पाठक और गोस्वामी कथित तौर पर पूजा करने की कोशिश कर रहे थे, जबकि अली कथित तौर पर मॉल के परिसर में नमाज अदा करने की कोशिश कर रहा था।इन चारों के अलावा 16 जुलाई को शॉपिंग मॉल में घुसने की कोशिश करने और कानून-व्यवस्था भंग करने के आरोप में 18 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था. उसी दिन, दो अन्य लोगों को हनुमान चालीसा का पाठ करने और सद्भाव बिगाड़ने वाले नारे लगाने के आरोप में हिरासत में लिया गया था. 

First Published : 19 Jul 2022, 05:59:49 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.