News Nation Logo

UP : फर्रुखाबाद में एक सिरफिरे ने 15-20 बच्चों के साथ महिलाओं को बनाया बंधक

यहां एक सिरफिरे व्यक्ति ने 15-20 बच्चों के साथ कुछ महिलाओं को बंधक बना लिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 30 Jan 2020, 11:42:06 PM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में एक अजीबो गरीब वाक्या सामने आया है. यहां एक सिरफिरे व्यक्ति ने 15-20 बच्चों के साथ कुछ महिलाओं को बंधक बना लिया है. इस व्यक्ति ने जन्मदिन के बहाने इन लोगों को अपने घर पर बुलाया और थोड़ी देर बाद इन सबको एक साथ एक कमरे में बंद कर दिया है. इस मौके पर एसपी सहित पुलिस के कई वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं और बच्चों को सुरक्षित निकालने की कोशिश कर रहे हैं. 

इस दौरान सिरफिरे शख्स ने पुलिस की टीम पर फायरिंग भी की है. शख्स रुक-रुक कर पुलिस टीम पर फायरिंग कर रहा है. अभी तक इस बात का पता नहीं लगाया जा सका है कि इस सिरफिरे व्यक्ति ने ऐसा क्यों किया है. इन बच्चों और महिलाओं के अपहरण के पीछे इस शख्स का क्या इरादा है अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है. यूपी पुलिस लगातार इस घर पर नजर जमाए बैठी है और बच्चों को सरक्षित निकालने के प्रयास कर रही है. एडीजी कानून व्यवस्था पीबी रामशास्त्री ने बताया कि एटीएस और एनसजी की टीम मौके पर पहुचने वाली है दोनों ही टीमो को ग्रीन कॉरिडोर दिया गया ताकी जल्द से जल्द टीम पहुचे ats टीम कई प्लानिग कर रही है हमारा उद्देश्य है बच्चों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो इस ऑपरेशन को ऑपरेशन मासूम नाम दिया गया है

यह भी पढ़ें-PNB Bank Fraud Case: नीरव मोदी की हिरासत अवधि 27 फरवरी तक बढ़ी

मीडिया में आईं खबरों के मुताबिक यह सिरफिरा व्यक्ति नशे में धुत है और इसने 15-20 बच्चों सहित कुछ महिलाओं को बंधक बना लिया है. जब काफी देर तक लोग घर से बाहर नहीं निकले तो ग्रामीणों ने उन लोगों को छुड़ाने का प्रयास किया लेकिन उस सिरफिर ने ग्रामीणों को डरा- धमका कर वहां से भगा दिया, जिसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी. थोड़ी ही देर में उत्तर प्रदेश पुलिस के आला अधिकारी तक उस जगह पर पहुंच गए जहां इस शख्स ने बच्चों को बंधक बनाया था. लेकिन पुलिस भी अभी तक बच्चों को वहां से सुरक्षित निकाल पाने में सफल नहीं हो पाई है. यह शख्स थोड़ी-थोड़ी देर में पुलिस टीम पर कमरे से निकल कर गोलियां भी चला देता है. ऐसे में अब बच्चों को छुड़ाने के लिए एटीएस का कमांडो दस्ता फर्रुखाबाद के लिए रवाना हो गया है. 

यह भी पढ़ें-जामिया फायरिंग पर बोले गृहमंत्री अमित शाह, कहा- ऐसी घटनाएं बर्दाश्त नहीं कड़ी कार्रवाई होगी

इस शातिर दिमाग के सनकी व्यक्ति पर ना जाने क्या धुन सवार है जो उसने इन मासूमों को बंधक बना लिया है. इसने बच्चों को छुड़ाने गए एक ग्रामीण को गोली मार दी जिसके बाद उस घायल शख्स को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है. करसिया गांव के निवासी सुभाष गौतम पुत्र जगदीश गौतम द्वारा इन मासूमों के अपहरण की खबर चारो ओर फैल चुकी है.  मासूमों को छुड़ाने के लिए इस सिरफिरे सुभाष के घर एसपी और एएसपी सहित भारी पुलिस बल मौके पर तैनात हैं. एटीएस का प्लान है कि पहले सुभाष बाथम से पहले बात की जाए और उसे थकाया जय उसके बाद उसे समझाया जाय ताकि उस का गुस्सा थोड़ा कम हो. एनएसजी ने घर का इसकेच मांगा की घर के अंदर कितने लोग है इस कि भी जानकर मांगी गई.

डीजीपी का बयान
उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि इस सिरफिरे शख्स ने 12 से 20 बच्चों को बंधक बनाया हुआ है. रुक-रुक कर घर के अंदर से गोलियां भी चला रहा है जिससे 2 पुलिस के जवान भी घायल हो गए हैं. मामले पर काबू पाने के लिए एनएसजी को भी सूचना दी गई है. डीजीपी ने आगे बताया कि बच्चों के साथ महिलाओं को बंधक बनाने वाला सजायाफ्ता मुलजिम है. इस सिरफिरे शख्स ने एक देसी बम भी पुलिस टीम पर फेंका है. एटीएस मौके पर पहुंच गई है. कमांडो टीम को मौके पर भेजा गया है, जरूरत पड़ी तो एनएएसजी को भी बुलाएंगे और सभी बच्चों को सुरक्षित निकालेंगे.

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 30 Jan 2020, 09:03:54 PM