News Nation Logo

सरकारी एंटीजन किट ऑनलाइन बेचने के आरोप में 4 लोग गिरफ्तार

सिद्धार्थ नगर के पुलिस अधीक्षक राम अभिलाष त्रिपाठी ने कहा कि चारों आरोपियों शिव शंकर चौधरी, विनोद कुमार त्रिपाठी, मुख्तार अली और ओंकार त्रिपाठी से पूछताछ के बाद उनके साथियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Ritika Shree | Updated on: 17 Jun 2021, 03:12:17 PM
antigen test kit

antigen test kit (Photo Credit: गूगल)

highlights

  • पकड़े गए लोग संविदा स्वास्थ्यकर्मी हैं
  • पुलिस अधिकारियों ने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों ने नाली के नेटवर्क के जरिए रैकेट चलाया
  • इनमें से अधिकांश ऑर्डर पटना के थे. उन्होंने खुले बाजार में भी किट को 1,000 रुपये में बेचा है

सिद्धार्थनगर:

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थ नगर जिले में चार स्वास्थ्य कर्मियों को सरकारी एंटीजन किट ऑनलाइन बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. जब पुलिस ने उस्का बाजार पुलिस सर्कल में रेलवे क्रॉसिंग क्षेत्र में उनके ठिकाने पर छापा मारा तो पता चला कि किट को कूरियर के माध्यम से पटना भेजा जा रहा था. उनके कब्जे से 20 लाख रुपये की 2,000 से अधिक किट जब्त की गईं. पकड़े गए लोग संविदा स्वास्थ्यकर्मी हैं. सिद्धार्थ नगर के पुलिस अधीक्षक राम अभिलाष त्रिपाठी ने कहा कि चारों आरोपियों शिव शंकर चौधरी, विनोद कुमार त्रिपाठी, मुख्तार अली और ओंकार त्रिपाठी से पूछताछ के बाद उनके साथियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं. एसपी ने कहा, '' हमें ऑनलाइन और खुले बाजार में एंटीजन परीक्षण किट बेचे जाने के बारे में खुफिया जानकारी मिली थी. हमने गुप्त सूचना पर काम किया और गिरोह के सदस्यों को खेप के साथ गिरफ्तार किया. गिरोह के नेटवर्क का जल्द ही भंडाफोड़ किया जाएगा.''

यह भी पढ़ेः गाजियाबाद केस में पीड़ित अब्दुल समद ने बदला बयान, कहा- लगवाए जय श्रीराम के नारे, ताबीज की बात झूठी

पुलिस अधिकारियों ने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों ने नाली के नेटवर्क के जरिए रैकेट चलाया. पुलिस ने कहा कि सबसे पहले, वे ग्राहकों के लिए इंटरनेट ब्राउज करते है और कन्फर्म ऑर्डर मिलने के बाद, वे ग्राहकों को खेप भेजते है. इनमें से अधिकांश ऑर्डर पटना के थे. उन्होंने खुले बाजार में भी किट को 1,000 रुपये में बेचा है. एंटीजन किट बेचने के मामले की जानकारी मिली थी. गोपनीयता बरतते हुए जांच के लिए टीमें लगाई गई थी. जांच में पुख्ता होने के बाद एसडीएम सदर के साथ एसओजी टीम को तैयार किया गया. इसके बाद चार संविदा कर्मियों को पकड़ा गया है. किट भी बरामद हुई है, इन सभी की सेवा समाप्ति के साथ ही कड़ी कार्रवाई की जाएगी. जांच जारी है, जो भी इसमें संलिप्त होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Jun 2021, 03:12:17 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.