News Nation Logo
Banner

तमिलनाडु (Tamilnadu) में बोरवेल (Borewell) में फंसे दो साल के बच्‍चे की मौत, बाहर निकाली गई लाश

तमिलनाडु के तिरुचिरापल्‍ली में बोरवेल में तीन दिन से फंसे दो साल के बच्‍चे की मौत हो गई. एनडीआरएफ की टीम ने बच्‍चे को कड़ी मशक्‍कत के बाद बाहर निकाला और उसे तुरंत अस्‍पताल ले जाया गया.

By : Sunil Mishra | Updated on: 29 Oct 2019, 07:41:18 AM
मुश्‍किल में जान : तमिलनाडु में बोरवेल में फंसे दो साल के बच्‍चे की मौ

मुश्‍किल में जान : तमिलनाडु में बोरवेल में फंसे दो साल के बच्‍चे की मौ (Photo Credit: ANI)

नई दिल्‍ली:

तमिलनाडु के तिरुचिरापल्‍ली में बोरवेल में तीन दिन से फंसे दो साल के बच्‍चे सुजीत विल्‍सन की मौत हो गई. बोरवेल से बॉडी निकाली गई तो आसपास दुर्गंध फैल गया. इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि उसकी मौत पहले ही हो गई थी. एनडीआरएफ की टीम ने बच्‍चे को कड़ी मशक्‍कत के बाद बाहर निकाला और उसे तुरंत अस्‍पताल ले जाया गया. अस्‍पताल में सरकारी खानापूर्ति के बाद शव को उसके घर ले जाया गया. सुजीत का शव देख घरवालों की हालत खराब हो गई. उन्‍हें संभालना मुश्‍किल हो गया. राज्‍य सरकार के परिवहन मंत्री जे. राधाकृष्‍णन ने यह जानकारी दी.

यह भी पढ़ें : कश्‍मीर ब्‍लैक डे के नाम पर पाकिस्‍तानी सेना ने GHQ में जमकर की अय्याशियां, क्‍या यही है इमरान खान का मिशन कश्मीर

पिछले 25 अक्‍टूबर को शाम 5:30 बजे बोरवेल में बच्‍चे के गिरने के बाद से लगातार 80 घंटों से भी अधिक समय तक उसे बचाने के लिए रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन चला. लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका. सुजीत विल्‍सन बच्‍चों के साथ वहां खेल रहा था. खेलते-खेलते वह 88 फीट गहरे बोरवेल में जा गिरा.

यह भी पढ़ें : भारत दौरे पर आने के लिए तैयार नहीं कई बांग्लादेशी खिलाड़ी, बना रहे तरह-तरह के बहाने

सुजीत को बचाने के लिए एनडीआरफ की 6 टीमें लगाई गई थीं. एनडीआरएफ के अलावा एसडीआरएफ की टीमें भी जुटी थीं. तमिलनाडु के उपमुख्‍यमंत्री ओ पनीरसेल्‍वम खुद पूरे ऑपरेशन की निगरानी कर रहे थे. पनीरसेल्‍वम ने सोमवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात भी की थी.

First Published : 29 Oct 2019, 06:46:48 AM

For all the Latest States News, South India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो