News Nation Logo
Banner

तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) ने मनाया 18वां स्थापना दिवस, पार्टी ने ली ये संकल्प

आदर्श आचार संहिता के मद्देनजर साधारण तरीके से मनाया स्थापना दिवस, टीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष के.टी. रामाराव ने पार्टी मुख्यालय तेलंगाना भवन पर पार्टी का झंडा फहराकर समारोह का किया नेतृत्व

IANS | Updated on: 27 Apr 2019, 08:56:10 PM
के. चंद्रशेखर राव (फाइल फोटो)

के. चंद्रशेखर राव (फाइल फोटो)

हैदराबाद:

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने शनिवार को अपना 18वां स्थापना दिवस लोकसभा चुनाव के लिए लागू आदर्श आचार संहिता के मद्देनजर साधारण तरीके से मनाया. टीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष के.टी. रामाराव ने पार्टी मुख्यालय तेलंगाना भवन पर पार्टी का झंडा फहराकर समारोह का नेतृत्व किया. राज्यभर में आयोजित समारोहों में मंत्रियों, विधायकों और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने हिस्सा लिया. रामा राव ने पार्टी पदाधिकारियों से अपील की कि वे निर्वाचन आयोग की आचार संहिता के मद्देनजर साधारण तरीके से समारोह आयोजित करें. पार्टी कार्यालयों पर झंडा फहराने के अलावा कोई और आयोजन नहीं किया गया.

रामा राव ने टीआरएस मुख्यालय पर अपने भाषण में भरोसा जताया कि उनकी पार्टी राज्य की सभी 16 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करेगी. पार्टी ने हैदराबाद सीट अपने गठबंधन सहयोगी, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के लिए छोड़ दी है. केटीआर ने नेताओं से आग्रह किया कि वे स्थानीय निकाय चुनावों में पार्टी की जीत सुनिश्चित कराएं. तेलंगाना के मुख्यमंत्री और टीआरएस अध्यक्ष के. चंद्रशेखर राव के पुत्र केटीआर ने दावा किया कि पिछले 18 वर्षो में टीआरएस अभेद्य राजनीतिक ताकत बन गई है.

उन्होंने 2001 के उस दिन को याद किया, जब केसीआर ने पृथक तेलंगाना राज्य खातिर टीआरएस की स्थापना के लिए विधानसभा उपाध्यक्ष पद से और विधानसभा से तथा तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) से इस्तीफा दे दिया था. टीआरएस नेता ने कहा, "उन्होंने लोगों से कहा था कि यदि वह आंदोलन को छोड़कर उनके साथ धोखा करते हैं तो उन्हें पूरा अधिकार होगा कि वे पत्थर मारकर उनकी हत्या कर दें."

First Published : 27 Apr 2019, 08:56:03 PM

For all the Latest States News, South India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो