News Nation Logo

केरल में कांग्रेस को बड़ा झटका, KPCC के पूर्व सचिव ने BJP का दामन थामा

Kerala Assembly Election : केरल विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है. केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (KPCC) के पूर्व सचिव विजयन थॉमस (Vijayan Thomas) शुक्रवार को भगवाधारी हो गए.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 12 Mar 2021, 07:23:18 PM
Vijayan Thomas

KPCC के पूर्व सचिव ने BJP का दामन थामा (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • KPCC के पूर्व सचिव विजयन थॉमस हुए भगवाधारी
  • इससे पहले पीसी चाको ने दिया था इस्तीफा
  • साल 2013 में हुए दिल्ली चुनाव में पीसी चाको दिल्ली के कांग्रेस प्रभारी थे

नई दिल्ली:

Kerala Assembly Election : केरल विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है. केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (KPCC) के पूर्व सचिव विजयन थॉमस (Vijayan Thomas) शुक्रवार को भगवाधारी हो गए. दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने विजयन थॉमस को भाजपा की सदस्यता दिलाई है. आपको बता दें कि इससे पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता पीसी चाको ने अपने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है. पीसी चाको ने कहा था कि केरल कांग्रेस के साथ काम करना बहुत मुश्किल काम है. पीसी चाको ने अपने इस्तीफा कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को सौंप दिया है.   

कांग्रेस नेता पीसी चाको ने कहा कि, मैंने कांग्रेस पार्टी छोड़ दी है और पार्टी के अंतरिम प्रमुख सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया है. आपको बता दें कि पीसी चाको केरल में कांग्रेस का बड़ा चेहरा माने जाते थे पार्टी में उनका कद काफी ऊंचा था और वो दिल्ली सहित कई राज्यों के चुनाव प्रभारी भी रह चुके थे.

आपको बता दें कि साल 2013 में हुए दिल्ली चुनाव में पीसी चाको दिल्ली के कांग्रेस प्रभारी थे और इस चुनाव में कांग्रेस को करारी शिकस्त मिली थी जिसके बाद राजधानी में कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको ने पद से इस्तीफा दे दिया था. पीसी चाको ने इसके साथ ही पार्टी के कई नेताओं पर जुबानी हमला भी बोला था. चाको ने कहा था, कांग्रेस पार्टी का पतन साल 2013 में ही शुरू हो गया था जब शीला दीक्षित मुख्यमंत्री थीं. उन्होंने कहा एक नई पार्टी आम आदमी पार्टी (आप) के उदय ने कांग्रेस के पूरे वोट बैंक को छीन लिया। हम इसे कभी वापस नहीं पा सके। यह अभी भी आप के साथ बना हुआ है.

2019 की हार के बाद दिल्ली कांग्रेस नेताओं के निशाने पर आए थे चाको

साल 2019 में दिल्ली चुनाव में शिकस्त के बाद कांग्रेस नेता मंगत राम सिंघल, किरण वालिया और दिल्ली कांग्रेस के प्रवक्ताओं रमाकांत गोस्वामी और जितेंद्र कोचर ने चाको पर पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के पुत्र संदीप दीक्षित द्वारा लिखे गए एक व्यक्तिगत पत्र को लीक करने का भी आरोप लगाया था. संदीप दीक्षित ने चाको पर उनके व्यक्तिगत पत्र को मीडिया में लीक करने का आरोप लगाया था. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस हाईकमान ने उस समय संदीप दीक्षित द्वारा लिखे गए पत्र में दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की अचानक मौत के लिए पीसी चाको को जिम्मेदार ठहराया गया था.

यहां आपको बता दें कि साल 2020 में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 62 सीटें हासिलकर शानदार जीत दर्ज की थी, वहीं भारतीय जनता पार्टी को महज 8 सीटें मिली थीं जबकि कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 Mar 2021, 07:07:21 PM

For all the Latest States News, South India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.