News Nation Logo
Banner

कर्नाटक कैबिनेट में 3 से 5 डिप्टी सीएम और 8 नए चेहरे हो सकते हैं शामिल

कर्नाटक में नए सीएम बसवराज बोम्मई (CM basavaraj bommai) के शपथ लेने के बाद अब नई कैबिनेट का विस्तार होना है. BJP सूत्रों के हवाले से खबर है कि कर्नाटक में 3 से  5 उपमुख्यमंत्री बनाए जा सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 03 Aug 2021, 06:03:01 PM
basavrao

कर्नाटक कैबिनेट का विस्तार (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • कैबिनेट विस्तार का मामला मंगलवार रात हो जाएगा फाइनल 
  • दिल्ली में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे CM
  • नई कैबिनेट में इन समुदाय के नेता बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री 

नई दिल्ली:

Karnataka cabinet expansion : कर्नाटक में नए सीएम बसवराज बोम्मई (CM basavaraj bommai) के शपथ लेने के बाद अब नई कैबिनेट का विस्तार होना है. BJP सूत्रों के हवाले से खबर है कि कर्नाटक में 3 से  5 उपमुख्यमंत्री बनाए जा सकते हैं. साथ ही नई कैबिनेट में 8 नए मंत्री भी शामिल किए जा सकते हैं. वहीं, सीएम बसवराज बोम्मई ने कहा कि कैबिनेट विस्तार का मामला मंगलवार की रात को फाइनल हो जाएगा. दिल्ली में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुख्यमंत्री की मुलाकात में कैबिनेट विस्तार पर अंतिम मुहर लगेगी.

यह भी पढ़ें : ओलंपिक (गोला फेंक) : क्वालीफिकेशन में 13वें स्थान पर रहे तेजिंदर, फाइनल से चूके

कर्नाटक कैबिनेट में 3 से 5 डिप्टी सीएम बनाए जा सकते हैं, जिसमें एससी, एसटी, वोकालींगा ,लिंगायत समुदाय के पंचमशाली सब-सेक्ट और ओबीसी समुदाय से एक-एक उप मुख्यमंत्री हो सकता है. कर्नाटक की राजनीति में लिंगायत समुदाय के पंचमशाली सेक्ट भी काफी प्रभावशाली माना जाता है. इस सेक्ट से भी एक नेता को उप मुख्यमंत्री बनाया जाएगा. इसमें से अरविंद बेलाड, बासनगौड़ा पाटिल यत्नाल और मुरुगेश आर निरानी में से कोई एक उपमुख्यमंत्री बन सकते हैं.

दलित कोटे से गोविंद करजोल उपमुख्यमंत्री बन सकते हैं. वाल्मीकि समुदाय से श्रीरामुलु उपमुख्यमंत्री बनेंगे. वोकालिंगा कम्यूनिटी से आर अशोक या सीएन अश्वत्थ नारायण उप मुख्यमंत्री बन सकते हैं. नई कैबिनेट में आठ नए चेहरे शामिल हो सकते हैं.

आपको बता दें कि कर्नाटक के नवनियुक्त मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने सोमवार को भी भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात कर राज्य में मंत्रिमंडल विस्तार पर चर्चा की थी. बोम्मई रविवार शाम पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे थे. सूत्रों ने बताया कि देर शाम नड्डा के आवास पर हुई बैठक में केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नलिन कुमार कतील भी मौजूद थे.

यह भी पढ़ें : संयुक्त राष्ट्र को कदम उठाना चाहिए और अफगानिस्तान को तबाही से बचाना चाहिए

पार्टी के एक अंदरूनी सूत्र ने कहा कि जेपी नड्डा और बोम्मई ने मंत्रियों को शामिल किए जाने और मंत्रिमंडल के गठन के बारे में चर्चा की जैसे मंत्रियों की संख्या या उपमुख्यमंत्रियों की संख्या पर चर्चा हुई. इससे पहले दिन में बोम्मई ने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव, संगठन, बी.एल. संतोष और दोनों नेताओं ने संभावित कैबिनेट पर भी चर्चा की.

First Published : 03 Aug 2021, 05:40:01 PM

For all the Latest States News, South India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.