News Nation Logo
Banner

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार को गिराने की साजिश रचने का खुलासा, SOG में दर्ज हुई FIR

SOG की FIR से यह खुलासा हुआ है कि राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Election) से पहले सरकार गिराने की कोशिश हुई थी.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 11 Jul 2020, 08:12:56 AM
Ashok Gehlot- Sachin pilot

राजस्थान सरकार को गिराने की साजिश रचने का खुलासा, SOG में दर्ज हुई FIR (Photo Credit: फाइल फोटो)

जयपुर:

राजस्थान (Rajasthan) में एक बार फिर अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को गिराने की साजिश का खुलासा हुआ है. कांग्रेस पहले से ही आरोप लगा रही है कि भारतीय जनता पार्टी खरीद फरोख्त से गहलोत सरकार को गिराने की साजिश रच रही है. अब इस मामले में राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल (SOG) में एफआईआर दर्ज कराई गई है. SOG की FIR से यह खुलासा हुआ है कि राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Election) से पहले सरकार गिराने की कोशिश हुई थी. कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों को 20-25 करोड़ का प्रलोभन देने की बात की गई. सर्विलांस पर लिए गए 2 मोबाइल नम्बरों से यह खुलासा हुआ है. उप मुख्यमंत्री के दिल्ली दौरे के बारे में भी इन मोबाइल पर बात हुई थी.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस विधायकों का आरोप, BJP खरीद फरोख्त से कर रही गहलोत सरकार को गिराने की साजिश

SOG ने दो मोबाइल नंबरों के आपसी वार्तालाप को सुनकर मुकदमा दर्ज किया है. SOG के वॉइस लॉगर अनुभाग के निरीक्षक विजय कुमार रॉय की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया गया है. SOG में तैनात निरीक्षक विजय ने सर्विलांस में सुनी आवाज के आधार पर शिकायत दी. शिकायत के अनुसार, ऑडियो में सुना गया है कि इन दो नंबरों पर सुनी बातचीत पर निकलता है निर्णय कि वर्तमान सरकार को गिराने का प्रयास किया जा रहा है. बातचीत में कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री में झगड़ा चल रहा है, ऐसी स्थिति में सत्ता पक्ष और निर्दलीय विधायकों को तोड़कर सरकार गिराई जाए.

यह भी पढ़ें: नीतीश कुमार बोले- कोरोना से डरने की जरूरत नहीं, बिहार में रिकवरी रेट 71.54 प्रतिशत

बातचीत में यह भी आया सामने कि कुशलगढ़ विधायक रमिला खड़िया से भाजपा विधायक ने बात कर ली. कांग्रेस सरकार को गिराने के लिए 25-25 करोड़ में विधायक खरीदे जाने थे. SOG की FIR में दो विधायकों का जिक्र किया गया है. जिन नंबरों से बात हुई वह अशोक सिंह और भारत मालानी के बताए जा रहे हैं. दोनों नम्बरों को सर्विलांस पर लिया गया था. वहीं पूर्व मंत्री महेंद्रजीत सिंह मालवीय के बारे में भी FIR में जिक्र है. वे उप मुख्यमंत्री के पाले में पहले थे, लेकिन अब उन्होंने पाला बदल लिया है. FIR दर्ज होने के बाद अब SOG ने अनुसंधान शुरू कर दिया है.

यह वीडियो देखें: 

First Published : 11 Jul 2020, 08:12:56 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो