News Nation Logo
Banner

आंधी ने किसानों पर बरपाया कहर, बारिश में बह गए सारे अरमान

मंडी समिति की लापरवाही के चलते लगभग 1 लाख अनाज की बोरी भीग गया

By : Sushil Kumar | Updated on: 17 Apr 2019, 06:11:24 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

कोटा:

तेज आंधी और तूफान ने किसानों पर फिर से कहर बरपाया है. किसानों के सारे अरमान बारिश में बह गए. महकमे अभी तक मौन है. सबका पेट भरने वाला किसान खुद आंखों में आंसू लिए बैठा है. किसान की पीड़ा सुनने वाला कोई नहीं है. सरकार के कारिंदे अभी तक बेखबर है. प्राकृतिक आपदा की मार झेल रहे किसान की कोई नहीं सुन रहा है. कोटा जिले में 16 अप्रैल का दिन किसानों के लिए काला दिवस साबित हुआ. चारों तरफ घनघोर काली घटाओं ने किसानों की उम्मीदों पर काली चादर डाल दी.

यह भी पढ़ें - मौसम का बदला मिजाज, दिल्ली-नोएडा में धूल भरी आंधी, भारी बारिश की संभावना

भामाशाह मंडी परिसर में खुले में पड़ा किसानों का अनाज कुदरत के कहर का ग्रास बन गया. किसानों का माल यदि उनके लिए मंडी परिसर में बनाए गए शेड में रखा होता तो शायद सुरक्षित रहता, लेकिन मंडी समिति की लापरवाही और व्यापारियों की दादागिरी के चलते आखिर में गरीब किसान का ही मरण हुआ. किसानों का लगभग 1 लाख अनाज की बोरी भीग गया. लाचार किसान अब केवल अपनी किश्मत को कोस रहा है. 16 अप्रैल को तेज आंधी और तूफान ने पूरे देश में तबाही ला दी थी. देश में कल आंधी से 36 लोगों की मौत हो गई. कई राज्यों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है.

First Published : 17 Apr 2019, 06:11:18 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो