News Nation Logo
Banner

राजस्थान: मां-बाप के खिलाफ खड़ी हुई नाबालिग बेटी, जानें क्या है पूरा मामला

मां-बाप नाबालिग बेटी का बाल विवाह करवाना चाहते है जबकी बेटी उसका विरोध कर रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 09 May 2019, 01:23:43 PM
(सांकेतिक फोटो)

highlights

  • मां-बाप नाबालिग बेटी का बाल विवाह करवाना चाहते है
  • बेटी पढ़-लिखकर मां बाप के लिए कुछ करना चाहती है
  • प्रियंका ने 10वीं में 92 फीसदी मार्क्स प्राप्त किए है

कोटा:  

राजस्थान (Rajasthan) की एजुकेशन सिटी कोटा (Kota) से आज एक हैरतअंगेज खबर सामने आई है. जहां मां-बाप नाबालिग बेटी का बाल विवाह करवाना चाहते है जबकी बेटी उसका विरोध कर रही है. जिसके विरोध में उसने घर तक छोड़ दिया. जिसका कारण था कि वह पढ़ लिखकर मां बाप के लिए कुछ करना चाहती है.

लेकिन बेटी का भविष्य खुद मां-बाप अभी से मिटाना चाहते है. दरअसल बेटी प्रियंका सुमन जिसकी उम्र 15 साल है, जिस पर मां मूर्ति सुमन ओर पिता अर्जुन सुमन को गर्व करना चाहिए. लेकिन उसको पढ़ाने के बजाय वे उसका बाल विवाह कराना चाहते हैं. 

यह भी पढ़ें- दुल्‍हन का अपहरण कर जिसने हिला दिया था राजस्‍थान को, जानें वह कौन निकला

प्रियंका ने 10वीं में 92 फीसदी मार्क्स प्राप्त किए है. आपको जानकर आश्चर्य होगा कि प्रियंका को उसके माता-पिता ने 11वीं का एग्जाम नहीं देने दिया. 3 अप्रैल 2004 को जन्मी प्रियंका के माता-पिता उसकी शादी 13 मई 2019 को बूंदी में होने वाले सामूहिक विवाह सम्मेलन में बड़ी बहन लक्ष्मी के साथ उसका बाल विवाह करना चाहते है. जिसका वह विरोध कर रही है.

प्रियंका ने दो दिन पहले शादी के विरोध में और मां-बाप के द्वारा उसकी शादी नहीं करने से नहीं मानने पर अपना घर ही छोड दिया. क्योंकि प्रियंका का कहना है कि वह अभी शादी नहीं करना चाहती है. उसकी उम्र महज 15 साल है. वह आगे पढना लिखना चाहती है. अपने मां-बाप के लिए कुछ करना चाहती है. लेकिन माता-पिता इस बात के लिए राजी नहीं है.

यह भी पढ़ें- गैस कनेक्शन का फॉर्म भरने गई महिला के साथ गैंगरेप, वीडियो वायरल की दी धमकी

ऐसे में वह घर छोड़ आई. प्रियंका अपने बाल विवाह के खिलाफ खड़ी हुई. अपने भविष्य को संवारने के लिए उसने माता-पिता के गलत फैसले का विरोध किया और आज भी कर रही है. प्रियंका बूंदी जिले के गांव सीनंता की रहने वाली है. जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट परिवारजनों ने बूंदी जिले के केशवराय पाटन थाने में दर्ज करवा दी है. फिलहाल अभी वह चाइल्ड लाइन के पास है. चाइल्ड लाइन के मुताबिक उसने अपने दम ओर अपने पैरों पर खडा होने के लिए कोटा शहर में नयापुरा इलाके में किराए का कमरा तलाश किया था. 2 दिन वहां ठहरने पर मकान मालिक कुछ गड़बड़ लगा तो उसने पुलिस को सूचित किया. पुलिस ने उसे काउंसलिंग के लिए चाइल्ड लाइन से सुपुर्द कर दिया है.

First Published : 09 May 2019, 01:23:43 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.