News Nation Logo
Agnipath Scheme: आज से Air Force में भर्ती के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू होंगे 2002 Gujarat Riots: जाकिया जाफरी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज Agnipath Scheme: एयरफोर्स के लिए अग्निवीरों का रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, ऐसे करें आवेदनRead More » राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा 27 जून को राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना नामा Coronavirus: भारत में 17000 से ज्यादा केस, 5 माह में सबसे ज्यादा मामलेRead More » यशवंत सिन्हा को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का 'जेड (Z)' श्रेणी का सशस्त्र सुरक्षा कवच प्रदान किया NCP प्रमुख शरद पवार से मिलने मुंबई के लिए शिवसेना नेता संजय राउत वाई.बी. चव्हाण सेंटर पहुंचे सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी जांच के खिलाफ जाकिया जाफरी की याचिका की खारिजRead More » महाराष्ट्र सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को करेगा सुनवाई

Lock Down पर गहलोत का मोदी सरकार पर वार, कहा- अचानक नहीं होना चाहिए था लॉकडाउन

सीएम अशोक गहलोत ने बताया कि किस तरह से कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते हमारा राजस्व गिरा है, उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से लगाए गए लॉकडाउन की वजह से हमें महज 10 फीसदी राजस्व ही मिल पा रहा है.

Ajay Sharma | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 13 Apr 2020, 08:48:01 PM
Ashok Gehlot

अशोक गहलोत (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्ली:  

कोरोनावायरस (Corona Virus) को लेकर पूरे देश में हुए संपूर्ण लॉक डाउन (Lock Down) को लेकर राजस्थान के मुख्यमंंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला है. सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि यह अचानक से लॉकडाउन करने का समय नहीं था. लॉकडाउन का कठिन निर्णय लेने से पहले भारत सरकार को आउट राइट ग्रांट देनी चाहिए थे. अचानक से लॉक डाउन (Lock Down) करने से देश में अफरा-तफरी जैसा माहौल बन गया था लेकिन हालात काबू में कर लिए गए. सीएम अशोक गहलोत ने ये बातें मीडिया के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान बताईं. सीएम अशोक गहलोत ने बताया कि किस तरह से कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते हमारा राजस्व गिरा है, उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से लगाए गए लॉकडाउन की वजह से हमें महज 10 फीसदी राजस्व ही मिल पा रहा है. 

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए राजस्थान सरकार ने कोविड -19 (COVID-19) टेस्ट किट मंगवाई है. उन्होंने आगे कहा कि हमारे नेता राहुल गांधी ने भी कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए टेस्टिंग संख्या बढ़ाने की बात कही है. हमे गर्व है कि जब पूरा विश्व कोरोना वायरस के संक्रमण से परेशान है तब कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए बनाई जा रही दवाओं का कॉम्बिनेशन राजस्थान में ही बन रहा है. आज दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका भी कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से घुटनों पर आ गया है और हमारी दवाओं पर निर्भर हो गया है. 

लॉकडाउन के दौरान भोजन संबंधी समस्या के लिए एसडीएम को आवेदन करें
सीएम गहलोत ने आगे कहा कि ईडब्ल्यूएस को खाद्य सुरक्षा एक्ट में लाने के लिए हम लागातार केंद्र सरकार पर दबाव बना रहे हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के दौरान आर्थिक पिछड़ा वर्ग सहित सभी वर्गों में मौजूदा समय भोजन को लेकर समस्या है तो वो अपने इलाके के एसडीएम के पास आवेदन जरूर करें. सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि जनजातीय जिले बांसवाड़ा में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बहुत तेजी से बढ़े हैं, उन्होंने यह भी बताया कि ये सभी मामले चिन्हित कर लिए गए हैं इसलिए वहां पर अब चिंता की कोई बात नहीं है. 

यह भी पढ़ें-COVID-19 को लेकर बोले राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री, कहा- क्वारेंटाइन सजा नहीं सुरक्षा है

महज 5 लोगों ने दिया 198 को कोरोना संक्रमण
राजस्थान के जयपुर के पास रामगंज भी हॉटस्पॉट क्षेत्रों में से एक है जिसने अब अपना असर दिखाना भी शुरू कर दिया है. दरअसल राजस्थान में 81 नए पॉजिटिव केस पाए गए है और इनमें से 40 केवल जयपुर से ही हैं. जहां से यह सभी मामले सामने आए हैं वह रामगंज के आसपास के हैं. जानकारी के मुताबिक नए पॉजिटिव मामले रामगंज के आसपास उन क्षेत्रों से मिल रहे हैं, जहां अब तक इन्फेक्शन नही था. ज्यादातर नए पॉजिटिव मरीजों की कोई संपर्क और ट्रेवल हिस्ट्री भी जारी नही की गई है. अब तक राजस्थान के 24 जिलों में संक्रमण फैल चुका है.

यह भी पढ़ें-वधावन भाईयों के मामले में शिवसेना ने पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस पर साधा निशाना, कह दी ये बड़ी बात

राजस्थान में ड्रोन से रखी जा रही है नजर
राजस्थान में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं. वजह लॉकडाउन और कर्फ्यू को लेकर लगातार सामने आ रही लापरवाही की तस्वीरें. लिहाजा अब सरकार लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालो पर पैनी नजर रख रही है. एक ओर जहां कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र में करीब 15 ड्रोन के जरिये निगरानी की जा रही है वहीं 800 से अधिक कैमरों के जरिये नजर रखी जा रही है. अभय कमांड 800 कैमरों के जरिये जयपुर में हर क्षेत्र हो रही गतिविधियों पर नजर बनाए हुए है.

First Published : 13 Apr 2020, 08:04:09 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.