logo-image
लोकसभा चुनाव

खाटू श्याम मंदिर का होगा कायाकल्प, सरकार ने आवंटित किए 100 करोड़ रुपए

Rajasthan Budget 2024: राजस्थान की वित्त मंत्री दीया कुमारी ने बजट भाषण के दौरान राज्य के मंदिरों के सौंदर्यीकरण की घोषणा की है. इन मंदिरों में खाटू श्याम भी शामिल है.

Updated on: 10 Jul 2024, 03:27 PM

highlights

  • खाटू श्याम मंदिर का होगा कायाकल्प
  • सरकार ने आवंटित किए 100 करोड़ रुपए
  • त्योहारों के लिए विशेष साज-सज्जा

 

 

 

 

New Delhi:

Rajasthan Budget 2024: राजस्थान की उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री दीया कुमारी ने बुधवार को विधानसभा में वित्त वर्ष 2024-25 के लिए राज्य का बजट पेश किया. यह दीया कुमारी द्वारा वित्त मंत्री के रूप में पेश किया जाने वाला पहला पूर्ण बजट है, जिसमें उन्होंने मंदिरों के सौंदर्यीकरण को लेकर बड़ी घोषणाएं की हैं. इसके तहत, सरकार मंदिरों के सौंदर्यीकरण और धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए करोड़ों रुपए खर्च करेगी. वहीं वित्त मंत्री दीया कुमारी ने बजट भाषण के दौरान प्रदेश के मंदिरों के कायाकल्प की घोषणा की. उन्होंने बताया कि प्रदेश के 20 प्रमुख मंदिरों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा, जिसमें करोड़ों रुपये की राशि खर्च की जाएगी. उन्होंने कहा, ''अयोध्या और काशी में केंद्र सरकार द्वारा किए गए कार्यों की तर्ज पर, राज्य में खाटू श्याम मंदिर की भव्यता के लिए 100 करोड़ रुपये की घोषणा की जा रही है.''

यह भी पढ़ें: हिमाचल की इन तीन सीटों पर हो रहे हैं उपचुनाव, जानें अब तक कितना हुआ मतदान

त्योहारों के लिए विशेष साज-सज्जा

आपको बता दें कि त्योहारों को लेकर दीया कुमारी ने बड़े ऐलान किए हैं, जिसमें होली, दीवाली, शिवरात्रि, रामनवमी आदि त्योहारों शामिल है. इसके लिए 600 मंदिरों में विशेष सजावट और आरती कार्यक्रमों के लिए 13 करोड़ रुपये आवंटित किए जाएंगे. उन्होंने कहा कि मंदिरों के जीर्णोद्धार और राज्य में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न मंदिरों में विकास कार्य किए जाएंगे.

जनजाति आस्था केंद्रों का विकास

बजट में जनजाति आस्था केंद्रों का भी ध्यान रखा गया है. दीया कुमारी ने बताया कि सीतावाड़ी बारां, कमलनाथ महादेव और जावर माता मंदिर उदयपुर के साथ आस-पास के स्थलों का विकास और पर्यटकों के लिए सुविधाएं विकसित की जाएंगी. इसके अलावा, डूंगरपुर और बांसवाड़ा में जनजातीय नायकों के स्मारकों और उदयपुर में वीर बालिका काली बाई संग्रहालय के निर्माण के लिए 25 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है.

माटी कला सेंटर फॉर एक्सीलेंस

दीया कुमारी ने कहा कि राजस्थान में 'माटी कला सेंटर फॉर एक्सीलेंस' स्थापित किया जाएगा, जिससे माटी कला को बढ़ावा मिलेगा. इस सेंटर के माध्यम से स्थानीय कलाकारों को अपने कौशल को निखारने और प्रदर्शित करने का अवसर मिलेगा.

पर्यटन को बढ़ावा

आपको बता दें कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भी बजट में विशेष प्रावधान किए गए हैं. दीया कुमारी ने बताया कि राज्य में 20 लाख परिवार पर्यटन से जुड़े हुए हैं. ऐसे में राजस्थान पर्यटन विकास बोर्ड की स्थापना की जाएगी और 20 प्रमुख पर्यटन स्थलों को 200 करोड़ रुपये से विकसित किया जाएगा. साथ ही, जयपुर में वाल हेरिटेज सिटी बनाया जाएगा, जिससे राज्य के ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहर को संरक्षित और प्रचारित किया जा सके.

इस बजट के माध्यम से दीया कुमारी ने राजस्थान के धार्मिक और सांस्कृतिक धरोहरों के संरक्षण और संवर्धन की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है. मंदिरों के सौंदर्यीकरण और धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के इन प्रयासों से राज्य में धार्मिक पर्यटन को नई ऊंचाइयां मिलेंगी और स्थानीय समुदायों को आर्थिक लाभ प्राप्त होगा.