News Nation Logo
Banner

BJP प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया नए मुल्ला हैं, अशोक गहलोत का विवादित बयान

गहलोत ने सतीश पूनिया पर तंज कसते हुए कहा कि उन्हे बातें समझने में वक्त लगेगा. वे नए-नए मुल्ला हैं, जो नया मुल्ला होता है वो जोर से बांग देता है

By : Aditi Sharma | Updated on: 01 Nov 2019, 11:42:39 AM
अशोक गहलोत

अशोक गहलोत (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया को नया मुल्ला कहा है.  उन्होंने कहा कि वह अभी नए हैं. उन्हें अमित शाह और नरेंद्र मोदी ने राजस्थान के मुख्यमंत्री को टारगेट करने का निर्देश दिया है. उन्हे बातें समझने में वक्त लगेगा. वे नए-नए मुल्ला हैं, जो नया मुल्ला होता है वो जोर से बांग देता है. यह बात गहलोत ने गुरुवार को दिल्ली प्रवास के दौरान एक प्रेस वार्ता में कही.

गहलोत ने सतीश पूनिया पर तंज कसते हुए कहा कि उन्हे बातें समझने में वक्त लगेगा. वे नए-नए मुल्ला हैं, जो नया मुल्ला होता है वो जोर से बांग देता है. उनकी अभी वहीं स्थिती बनी है. उन्हे अमित शाह और नरेंद्र मोदी के इशारे हैं. 
आपको राजनीति करनी है. ये विषेश रूप से उन्हे काम सौंपा गया है.

यह भी पढ़ें: रसोई गैस सिलेंडर के दाम में हुई भारी बढ़ोतरी, फटाफट चेक करें नई कीमतें

वही सीएम अशोक गहलोत के बयान पर बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी पलटवार किया है. पूनिया ने कहा सीएम खुद की ही पार्टी में नेताओ को नहीं पचा पा रहे हैं. ऐसे में दूसरे की पार्टी के नेताओँ के बारे सीएम गहलोत ऐसी बयानबाजी कर सकते हैं, यह उनका फ्रस्ट्रेशन है. 

बता दें, इससे पहले गहलोत सरकार ने फरमान जारी किया था कि राजस्थान के सरकारी दफ्तरों में अब राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की फोटो या तस्वीर लगाना अनिवार्य होगा. मुख्य सचिव ने बाकायदा सभी विभागों को पत्र लिखकर बापू की फोटो लगाने के आदेश दिए हैं. कांग्रेस ने इस बार राष्ट्रपिता गांधी की 150वीं जयंती को भी जोर शोर से मनाया था. इसी के तहत राजस्थान सरकार ने यह फैसला भी लिया. राजस्थान सरकार ने इसके साथ ही यह मैसेज देने की कोशिश की कि कांग्रेस महात्मा गांधी के आदर्शों के सिद्धान्तों पर चलती है. न कि गोडसे और वीर सावरकर के कदमों पर. भाजपा का कहना है कि राष्ट्रपिता सबके सम्मानिय है, लेकिन सरकार ऐस फरमानों के बजाय काम करने पर ज्यादा ध्यान दे.

यह भी पढ़ें: BJP को झटका देने की तैयारी में शिवसेना, संजय राउत बोले- हमारी पार्टी से ही होगा मुख्यमंत्री

इसके पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गांधी जयंती के मौके पर राज्य में तंबाकू उत्पादों पर प्रतिबंध लगाने का एलान किया था. हालांकि कांग्रेस ने अपने जन घोषणा पत्र में भी तंबाकू पर प्रतिबंध की बात कही थी. गांधी जयंती के मौके पर राजस्थान में मैग्निशियम कार्बोनेट निकोटिन तम्बाकू, मिनरल ऑयल युक्त पान मसाला और फ्लेवर्ड सुपारी के उत्पादन, भंडारण और वितरण पर गांधी जयंती के बाद से रोक लगा दी गई है. आपको बता दें कि देशभर में हजारों लोग तंबाकू से होने वाले कैंसर की वजह से मरते हैं.

First Published : 01 Nov 2019, 11:33:19 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो