News Nation Logo
Banner

सार्वजनिक मंच से BJP विधायक ने पढ़े CM अशोक गहलोत की तारीफ में कसीदे

एक तरफ जहां बीजेपी विधानसभा के अंदर कांग्रेस सरकार को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर घेरने की कोशिश कर रही है. वहीं दूसरी तरफ जयपुर के सांगानेर से बीजेपी विधायक अशोक लोहाटी ने सीएम अशोक गहलोत की तारीफ के पुल बांधे है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 25 Feb 2020, 01:47:58 PM
CM Ashok Gehlot

CM Ashok Gehlot (Photo Credit: (फाइल फोटो))

नई दिल्ली:

एक तरफ जहां बीजेपी विधानसभा के अंदर कांग्रेस सरकार को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर घेरने की कोशिश कर रही है. वहीं दूसरी तरफ जयपुर के सांगानेर से बीजेपी विधायक अशोक लोहाटी ने सीएम अशोक गहलोत की तारीफ के पुल बांधे है. विधायक अशोक ने सार्वजनिक मंच से मुख्यमंत्री गहलोत की प्रशंसा की है. 22 फरवरी को विधायत प्रतिमा अनावरण समारोह के मौके पर मानसरोवर में द्वारकादास पुरोहित पार्क पहुंचे हुए थे. यहां पर उन्होंने मंच से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की जमकर तारीफ कर डाली. इसके साथ ही कहा चुनाव तो बस 10 दिन के होते हैं. इसके बाद कौनसी पार्टी, सरकार सबकी है ये सरकार हमारी भी है.

और पढ़ें: सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो फुटेज एक बार नहीं, बल्कि 10 बार सामने आ चुके हैं: अशोक गहलोत

उन्होंने मंच से ही गहलोत और धारीवाल को कहा आप हमारे भी मुख्यमंत्री और मंत्री हैं. हमार पार्टी के सभी कार्यकर्ता भी आपके स्वागत के लिए यहां आए हैं. लाहोटी ने ये भी कहा कि ये राजस्थान की हमारी परंपरा है अतिथि देवो भव:. बता दें कि बीजेपी विधायक ने मुख्यमंत्री गहलोत की तारीफ करने से पहले काफी देर मंच पर सीएम बातचीक की थी. इसके बाद लाहोटी ने खुले मंच से अशोक गहलोत की शान में कसीदे गढ़े.

लाहोटी के बयान से बीजेपी को बैकफुट पर लेने के लिए कांग्रेस के मंत्रियों ने एक के बाद एक बयान दिया, ऊर्जा मंत्री डॉ बीडी कल्ला ने कहा कि अशोक लाहोटी ने मुख्यमंत्री की तारीफ में जो कहा है वह उनकी अंतरात्मा की आवाज ही थी क्योंकि गहलोत राज में भ्रष्टाचार के लिए ज़ीरो टोलरेंस हैं. अब बीजेपी विधायक सार्वजनिक रूप से यह
स्वीकार रहे हैं. लेकिन वो लेकिन दिखावे के लिए विधानसभा में सरकार पर आरोप लगाते हैं.

बता दें कि कुछ दिन पहले परिवहन विभाग में छापेमारी को लेकर अशोक लाहोटी परिवहन मंत्री को घेरते नज़र आ रहे थे. वहीं परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि लाहोटी ने कहा था राजस्थान के मुख्यमंत्री को देखकर हमारा सीना गर्व से चौड़ा होता है, क्योंकि मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस के आधार पर काम करते हैं. लाहोटी ने मुख्यमंत्री की तारीफ इसलिए की है क्योंकि सच्चाई उनके दिल से आई है.

बीजेपी विधायक मदन दिलावर ने कहा लाहोटी ने व्यंग्यात्मक रूप में यह बात कही होगी. बीजेपी के कार्यकर्ता वहां गहलोत का स्वागत करने नहीं बल्कि उन्हें काले झंडे दिखाने गए होंगे.

वहीं बीजेपी विधायक कालीचरण सराफ ने मामले में पल्ला झाड़ते हुए कहा कि विधायक लाहोटी ने यह बात क्यों कही ये उन्हीं से पूछें. उन्होंने क्यों और कैसे ये बात कही मैं कैसे बता सकता हूं. लेकिन मैं इतना कह सकता हूं. बाकी कांग्रेस की प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार में चरम पर है.

और पढ़ें: राजस्थान विधानसभा में जन आधार प्राधिकरण विधेयक 2020 पारित, BJP MLAs चर्चा से बाहर

आखिरकार बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष और विधायक सतीश पूनिया को मीडिया के सामने आना पड़ा. बीजेपी विधायक अशोक लाहोटी द्वारा मुख्यमंत्री की तारीफ करने के मामले में सतीश पूनिया ने बयान दिया कि मैंने और नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने लाहोटी से तथ्यात्मक जानकारी ली है..जिस पर विधायक लाहोटी ने कहा है कि उन्होंने व्यंगात्मक टिप्पणी की थी, ना की कोई तारीफ की है..

पूनिया ने बताया कि लाहोटी ने कहा है वह पार्टी के साथ है और जो बात विधानसभा में कहते हैं वही बाहर भी कहते हैं. उन्होंने कहा कि हमने लाहोटी को निर्देश दिए हैं कि वो सार्वजनिक स्थान पर भी स्पष्टता से ही अपनी बात रखें ताकि कोई कन्फ्यूज़ ना हो.

ये भी पढ़ें: Rajasthan Budget 2020: गहलोत सरकार ने शिक्षा-नौकरी पर दिया जोर, बच्चे होंगे बस्ता मुक्त, पढ़ें पूरा बजट

इसके बाद विधायक अशोक लाहोटी ने भी मीडिया के समक्ष अपनी सफाई पेश करते हुए कहा कि मैंने मुख्यमंत्री की तारीफ नहीं की थी बल्कि व्यंगात्मक टिप्पणी की थी. लेकिन मीडिया ने उसे दूसरे अंदाज में चला दिया. मैंने कहा था हमारे मुख्यमंत्री जी जीरो टॉलरेंस की बात करते हैं. लेकिन केवल बात करते ही हैं काम होता नहीं दिखता. उन्होंने आगे सफाई दी कि जो बात मैं विधानसभा में कहता हूं वहीं सार्वजनिक मंच पर भी रखता हूं.

First Published : 25 Feb 2020, 12:46:30 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×