News Nation Logo

अब गांवों में पहुंचा कोरोना, राजस्थान के ग्रामीण इलाकों में इतनी बड़ी आबादी में दिखे लक्षण

कोरोना संक्रमण के बढ़ते दायरे के कारण ग्रामीण इलाकों में भी मरीजों की संख्या बढ रही है. आलम यह है कि डोर टू डोर सर्वे में राजस्थान के गांवों में रहने वाले 7 लाख लोगों में कोरोना के लक्षण दिखे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 11 May 2021, 09:21:02 AM
Corona test

राजस्थान के गांवों में इतनी बड़ी आबादी में दिखे कोरोना के लक्षण (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • शहरों के बाद अब गांवों में पहुंचा कोरोना
  • राजस्थान के ग्रामीण इलाकों में पसारे पैर
  • गांवों में रहने वाले 7 लाख लोगों में लक्षण

जयपुर:

राजस्थान में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर की वजह से हालात दिनों दिन खराब होते जा रहे हैं. संक्रमण के मामलों में लगातार इजाफा होता जा रहा है. एक तरफ जहां शहरी इलाकों में कोरोना का कहर बरपा हुआ है तो वहीं दूसरी ओर ग्रामीण इलाकों में भी कोरोना का संक्रमण पहुंच चुका है. कोरोना संक्रमण के बढ़ते दायरे के कारण ग्रामीण इलाकों में भी मरीजों की संख्या बढ रही है. आलम यह है कि डोर टू डोर सर्वे में राजस्थान के गांवों में रहने वाले 7 लाख लोगों में कोरोना के लक्षण दिखे हैं.

यह भी पढ़ें : कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए करना होगा इंतजार, तीसरी बार टला चुनाव 

अब गांवों में एंटीजन टेस्ट शुरू करेगी सरकार

ग्रामीण इलाकों में कोरोना की दस्तक के बाद बिगड़ते हालातों से राज्य सरकार भी वाकिफ है. इसलिए अब सरकार गांवों में एंटीजन टेस्ट शुरू करेगी, ताकि 15 से 20 मिनट में कोरोना की रिपोर्ट पता चल सके. ग्रामीण क्षेत्रों में फिलहाल स्थिति यह है कि गांव के लोग गांव में ही रहकर उपचार करा रहे हैं. गांवों में फैलते संक्रमण को लेकर सरकार चिंतित भी है. इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चेताया है कि यदि 15 दिन के लॉकडाउन में हालात काबू नहीं हुए तो सरकार कुछ नहीं कर पाएगी.

राजस्थान की पॉजिटिविटी रेट देश में सबसे ज्यादा

उधर, पूरे प्रदेश की बात करें तो राजस्थान की पॉजिटिविटी रेट देश में सबसे ज्यादा है. यहां हर 100 जांचों में 40 लोग कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं. सोमवार को राज्य में 16 हजार 487 नए मामले सामने आए. इसी के साथ राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 7,73,194 पहुंच गई. सोमवार को 160 लोगों की कोरोना से मौत हुई, जिन्हें मिलाकर प्रदेश में अब तक कोरोना से 5,825 लोग अपनी जान गवां चुके हैं. राज्य में फिलहाल कोरोना के 2,03017 एक्टिव केस हैं.

यह भी पढ़ें : मोदी सरकार को SC की टास्क फोर्स से राहत, O2 के उत्पादन-सप्लाई में अभूतपूर्व काम 

राजस्थान में लागू है सख्त लॉकडाउन

कोरोना मामलों में लगातार वृद्धि के चलते राजस्थान में सख्त लॉकडाउन लगा हुआ है. राजस्थान सरकार का सोमवार से शुरू हुआ 15 दिनों का लॉकडाउन अब 24 मई तक लागू रहेगा. कोरोना मामलों में वृद्धि को देखते हुए राज्य सरकार ने सख्त लॉकडाउन की घोषणा की है, जिसके तहत 31 मई तक राज्य में विवाह समारोहों पर प्रतिबंध रहेगा. लोगों को घरों के अंदर रहने के लिए पुलिस शहर में कड़ी निगरानी करेगी और बिना किसी कारण के बाहर घूमने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा. इस बंद के दौरान सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 6 से 11 बजे तक शराब की दुकानें खुली रहेंगी.

फल और सब्जी की गाड़ियां सुबह 6 से शाम 5 बजे तक संचालित की जा सकेंगी. किराने और खाद्य पदार्थों की दुकानें सुबह 6 से 11 बजे तक खुली रहेंगी. भोजन, किराना आइटम, आटा मिलों और पशु आहार से संबंधित थोक और खुदरा दुकानें सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 6 से 11 बजे तक खुली रहेंगी. किसानों, उर्वरकों और कृषि उपकरणों के लिए आवश्यक खुदरा बिक्री उत्पादों को सोमवार से गुरुवार तक सुबह 6 से 11 बजे तक खोला जाएगा. मेडिकल स्टोर पूरे सात दिन खुले रहेंगे. डेयरी और दूध की दुकानों को सुबह 6 से 11 बजे और शाम को 5 बजे से 7 बजे तक खोलने की अनुमति होगी.

सरकारी राशन की दुकानें बिना किसी अवकाश के खुली रहेंगी. मेडिकल स्टोर, मेडिकल उपकरण की दुकानें सभी सात दिनों में खुली रहेंगी. हालांकि, शनिवार और रविवार को कर्फ्यू रहेगा. पेट्रोल पंप खुले रहेंगे, लेकिन निजी वाहन सुबह 7 से दोपहर 12 बजे तक डीजल-पेट्रोल या गैस भर सकेंगे. एलपीजी सिलेंडर वितरित करने की अनुमति सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 11 May 2021, 09:21:02 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.