News Nation Logo

रीट परीक्षा में नकल करने से बाज नहीं आए मुन्नाभाई, राजस्थान में नकल करते 7 गिरफ्तार

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 23 Jul 2022, 11:04:13 PM
Arrest

Arrest (Photo Credit: File)

जोधपुर:  

कड़े सुरक्षा इंतजाम के बीच राजस्थान में रीट परीक्षा (reet exam) की पहली पारी खत्म हो गई है. नकल और पेपर लीक को रोकने के लिए पुलिस की सेंटर्स के साथ उसके आसपास के एरिया में भी कड़ी नजर रही, लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी जोधपुर में फर्जी परीक्षार्थी सेंटरों तक पहुंचने में कामयाब रहे. हालांकि, परीक्षा खत्म होने से पहले इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं, बीकानेर पुलिस ने दो ऐसे युवकों को पकड़ा है, जो सेंटर में मौजूद परीक्षार्थी को नकल करवाने के प्रयास में थे. इनके पास से इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस भी जब्त किए गए हैं. जोधपुर डीसीपी गौरव यादव ने बताया कि पहली पारी की परीक्षा में तीन फर्जी परीक्षार्थी पकड़े गए हैं. इनमें से एक बाड़मेर का सरकारी स्कूल टीचर है.

आरोपी का नाम जूंजाराम बिश्नोई है और इसने डमी कैंडिडेट बनने के एवज में तीन लाख रुपये लिए थे. यादव ने बताया कि आरोपी बाड़मेर के धोरीमन्ना का रहने वाला है. वह बाड़मेर के सेड़वा निवासी प्रेम प्रकाश की जगह परीक्षा देने आया था. वहीं, उम्मेद कन्या स्कूल में ओसियां क्षेत्र के हणिया गांव निवासी पविताश विश्नोई के स्थान पर भोजासर निवासी महेश कुमार बिश्नोई परीक्षा देते हुए पकड़ा गया. तीसरे मामले में विद्या पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल में विकास विश्नोई के स्थान पर पाली जिले के जैतारण निवासी दिनेश गुर्जर को परीक्षा देते हुए पकड़ा गया. डीसीपी ने बताया कि पहले से मिले इनपुट के आधार पर जोधपुर के अलग-अलग परीक्षा केंद्रों पर 15 कैंडिडेट की गहनता से जांच की गई थी.

ये भी पढ़ें: अखिलेश यादव का शिवपाल को जवाब- जहां ज्यादा इज्जत मिले, वहां चले जाएं

बीकानेर में भी पुलिस ने नकल कराने की कोशिश में लगे दो आरोपियों को पकड़ा है. मामला जयनारायण व्यास कॉलोनी का बताया जा रहा है. सूत्रों के अनुसार पुलिस की टीमें इन युवकों पर सुबह से ही नजर रख रही थीं. दोनों आरोपी प्रदीप चौधरी और दिनेश चौधरी को पहली पारी की परीक्षा शुरू होने से कुछ समय पहले ही गिरफ्तार किया गया. 
इनके पास से माइक, स्पाई कैमरा, ब्लूटूथ डिवाइस मिले हैं. पुलिस अभी इनसे पूछताछ कर रही है. वहीं, करौली में भी दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है. रीट में नकल रोकने के लिए प्रदेशभर के 1376 परीक्षा केंद्रों की 30 हजार से ज्यादा सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है. इसकी मॉनिटरिंग शिक्षा विभाग के साथ पुलिस के अभय कमांड सेंटर से भी हो रही है. वहीं परीक्षा केंद्र पर पेपर आने से लेकर फिर से पेपर जाने तक के हर पर की वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई जा रही है.

First Published : 23 Jul 2022, 11:04:13 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.