News Nation Logo
Banner

राजस्थान : झुंझुनू के शहीद का पार्थिव शरीर पंच तत्त्व में विलीन, 4 साल के बेटे ने दी मुखाग्नि

राजकीय सम्मान के साथ शहीद रणजीत सिंह गुर्जर को उनके पैतृक गांव में अंतिम विदाई दी गई

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 06 Apr 2019, 08:48:50 AM

झुंझुनू:

राजस्थान (Rajasthan) के झुंझुनू में शहीद शहीद रणजीत सिंह गुर्जर का गुरुवार को अंतिम संस्कार हुआ. पूरे राजकीय सम्मान के साथ शहीद रणजीत सिंह गुर्जर को उनके पैतृक गांव में अंतिम विदाई दी गई. उनके 4 वर्षीय बेटे साहिल ने शहीद पिता को मुखाग्नि दी.

यह भी पढ़ें- भारत पर हमला करने वाले F-16 में से एक अपने बेस स्टेशन पर वापस नहीं पहुंचा था: भारतीय वायुसेना

शहीद की अंतिम यात्रा में हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए और रणजीत सिंह अमर रहे के नारों से आकाश को गुंजायमान कर दिया. सेना की पांचवीं ग्रेनेडियर के जवान रणजीत सिंह को अंतिम विदाई देने के लिए सेना की टुकड़ी ने मातमी धुन और हवाई फायर करते हुए गार्ड ऑफ ऑनर दिया.

शहीद रणजीत की शहादत की सूचना के बाद से ही परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था, तो वहीं गांव में गमगीन माहौल रहा. गुरुवार दोपहर में शहीद रणजीत सिंह गुर्जर का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव पहुंचा, शहीद के पार्थिव शरीर को देखकर हर किसी की आंखें नम हो गई. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था.

यह भी पढ़ें- अमेरिका के दिए सभी जेट फाइटर मौजूद पर भारत ने F-16 को ही मार गिराया, जानें कैसे

बता दें कि शहीद रणजीत सिंह महू में युद्धाभ्यास के दौरान मोर्टार फटने से वीरगति को प्राप्त हो गए थे. युद्धाभ्यास के बाद रणजीत सिंह छुट्टी भी आने वाले थे. इससे पहले 1 महीने की छुट्टी काट कर दो मार्च को ही गए थे. शहीद रंजीत सिंह अपने पीछे माता फूली देवी, पिता सुमेर सिंह (रिटायर्ड सूबेदार), पत्नी मीना देवी और 4 वर्षीय बेटे साहिल को छोड़कर गए हैं.

First Published : 06 Apr 2019, 08:48:46 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो