News Nation Logo

गहलोत मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल, नए मंत्रियों के बारे में जानें ये खास बातें

राजस्थान मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल हो गया है. गहलोत कैबिनेट में 11 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्री को शपथ दिलाई गई है. राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र ने मंत्रियों को शपथ दिलाई है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 21 Nov 2021, 04:25:28 PM
Rajasthan Cabinet

गहलोत मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

Gehlot cabinet reshuffle : राजस्थान मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल हो गया है. गहलोत कैबिनेट में 11 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्री को शपथ दिलाई गई है. राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र ने मंत्रियों को शपथ दिलाई है. नए मंत्रिमंडल में तीन मंत्रियों को कैबिनेट रैंक में पदोन्नत किया गया है. इस कैबिनेट में पायलट खेमे के वफादारों को शामिल किया गया है. हेमराज चौधरी, महेंद्रजीत सिंह मालवीय, रामलाल जाट, विश्वेंद्र सिंह, रमेश चंद मीणा समेत 15 मंत्रियों ने शपथ ग्रहण की है. आइये आपको हम मंत्रियों के बारे में संक्षिप्त जानकारी बताते हैं... 

कौन हैं हेमाराम चौधरी

राजस्थान विधानसभा में हेमाराम वरिष्ठ कांग्रेसी विधायक में से एक है.
बीकानेर की गुड़ामलानी सीट से विधायक हैं. 
पायलट गुट के विधायक माने जाते हैं.
छह बार के विधायक हैं और पूर्व में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं.
2008 में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका भी निभा चुके हैं.
लगभग तीन दशक से ज्यादा का राजनीतिक करियर रहा है.
मई में विधायक पद से इस्तीफा दिया था.

कौन हैं महेंद्रजीत सिंह मालवीय

तीन बार के विधायक है और पूर्व में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं.
बांसवाड़ा जिले की बागीदौरा सीट से विधायक है.
पार्टी का बड़ा आदिवासी चेहरा है.

कौन हैं रामलाल जाट

चार बार के विधायक हैं और पूर्व में मंत्री रह चुके हैं.
भीलवाड़ा की मांडल सीट से विधायक हैं.
जाट चेहरा और सीएम गहलोत के करीबी हैं.
रामलाल जाट भीलवाड़ा जिले से कांग्रेस के बड़े नेताओं में हैं.
सीएम गहलोत के नजदीक हैं.

कौन हैं डॉ. महेश जोशी

दो बार के विधायक हैं और पूर्व में लोकसभा सांसद रह चुके हैं.
अभी मुख्य सचेतक की भूमिका में हैं.
जयपुर की हवामहल सीट से विधायक हैं.
बगावत के समय पॉलिटिकल मैनेजमेंट संभाला था.

कौन हैं विश्वेंद्र सिंह

तीन बार के विधायक हैं और कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं.
सियासी संकट के दौरान मंत्री पद छोड़ना पड़ा था.
फिर से मंत्रिमंडल में शामिल हुए हैं. 
भरतपुर की डीग-कुम्हेर सीट से विधायक हैं.
पायटल के बेहद करीबी माने जाते हैं विश्वेंद्र सिंह. 

कौन हैं रमेश चंद मीणा

करौली के सपोटरा से तीन बार के विधायक हैं.
पूर्व में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं.
सियासी संकट के दौरान मंत्री पद छोड़ना पड़ा था.
पायलट खेमे से हैं रमेश चंद मीणा.

कौन हैं ममता भूपेश बैरवा

दौसा जिले की सिकराय विधानसभा सीट से विधायक ममता भूपेश हैं
ममता भूपेश को महिला बाल विकास राज्य मंत्री से कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा.

First Published : 21 Nov 2021, 04:25:28 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.