logo-image

Delhi: CM अशोक गहलोत ने पूछे सवाल- रेड में ED को कितना कैश मिला, इसका जवाब कौन देगा?

Delhi : राजस्थान विधानसभा चुनाव के बीच सीएम अशोक गहलोत की परेशानी बढ़ गई है. ईडी ने उनके बेटे को समन भेजा है. इसे लेकर मुख्यमंत्री गहलोत ने कई सवाल पूछे हैं.

Updated on: 28 Oct 2023, 09:45 PM

नई दिल्ली:

Delhi : राजस्थान में चुनावी दंगल के बीच एक तरफ सत्ता पक्ष कांग्रेस है तो दूसरी तरफ बीजेपी. दोनों पार्टियां चुनावी दंगल में कूद पड़ी हैं. इसे लेकर राजनीतिक दलों की ओर से लगातार अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया जा रहा है. इस बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मुश्किलें बढ़ गई हैं, क्योंकि जांच एजेंसी ईडी ने उनके बेटे वैभव गहलोत को पूछताछ के लिए समन भेजा है. इस बीच दिल्ली पहुंचे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने भाजपा (BJP) को निशाना साधते हुए ईडी (ED) से कई सवाल पूछे हैं. 

यह भी पढ़ें : Rajasthan Election: गहलोत के बेटे को ED के समन पर बोले मल्लिकार्जुन खरगे- कांग्रेसियों को डराना चाहते हैं, लेकिन...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि ईडी (ED) अभी तक प्रेस नोट जारी नहीं कर रही है कि हमने अमुक व्यक्ति के घर क्यों छापा किया? वहां से क्या बरामद हुआ? कितना कैश मिला? इसकी जानकारी जारी नहीं होती है ना ही वे प्रेस से बात करते हैं. बात भाजपा कर रही है. भाजपा ED की प्रवक्ता बन गई है. हमारे प्रदेश कांग्रेस प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा के यहां पर बिना किसी कारण के छापा किया गया. इन्हें पूरा देश देख रहा है, देश इन्हें माफ नहीं करेगा.

यह भी पढ़ें : Jharkhand: विधानसभा चुनाव के बीच रांची में जेपी नड्डा की सभा, जानें क्या है मकसद  

देश के पांच राज्यों में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए 25 नवंबर को वोट पड़ेंगे, जबकि चुनाव के रिजल्ट 3 दिसंबर को आएंगे. इस चुनावी दंगल के बीच पिछले दिनों राजस्थान में ईडी ने प्रदेश कांग्रेस प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा के आवास पर छापेमारी की थी. इसे लेकर पूरे प्रदेश में हड़कंप मच गया था और कांग्रेसियों ने इसके विरोध में प्रदर्शन किया था. साथ ही प्रवर्तन निदेशालय ने 30 अक्टूबर को मुख्यमंत्री के बेटे वैभव गहलोत को पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाया है. जांच एजेंसी की इस कार्रवाई को लेकर कांग्रेस ने भाजपा को घेरा है. इसे लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर पलटवार किया है.