News Nation Logo

BREAKING

Banner

राजस्थान: कोरोना लॉकडाउन के बीच बड़ी कालाबाजारी, बढ़ें सब्जियों के भाव

महामारी कोरोना वायरस को देखते हुए राजस्थान सहित पूरे देश में लॉक डाउन हो गया है. जिसके बाद आम जनता में जरूरी चीजों को लेकर भगदड़ सी स्थिति बन गई है. हर कोई अपने घरों में राशन और चीजें भरकर रख रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ सरकार लगातार कह रही है कि वो आवश्य

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 25 Mar 2020, 02:40:01 PM
vegetables

Corona Lockdown (Photo Credit: (सांकेतिक चित्र))

नई दिल्ली:

महामारी कोरोना वायरस को देखते हुए राजस्थान सहित पूरे देश में लॉक डाउन हो गया है. जिसके बाद आम जनता में जरूरी चीजों को लेकर भगदड़ सी स्थिति बन गई है. हर कोई अपने घरों में राशन और चीजें भरकर रख रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ सरकार लगातार कह रही है कि वो आवश्यक वस्तुओं में कमी नहीं देगी. सरकार के इस बयान के बाद भी सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाई जा रही है कि लॉकडाउन के दौरान सभी सब्जी मंडी बंद रहेगी. इसके बाद जयपुर में सब्जियों के भाव आसमान पर है.

वहीं इस अफवाह के फैलने के बाद 13 से 14 रुपये मे बिकने वाला आलू 40 रुपये किलो तक बेचा जा रहा है. जबकि टमार 7 से 8 रुपये किलो की जगह 30 से 35 रुपये किलो बिक रहा है. आलू-टमाटर की तरह ही अन्य सब्जियां भी महंगी मिल रही है.

और पढ़ें: कोरोना संकट के बहाने कांग्रेस को फिर याद आई ‘न्याय’ योजना, कही यह बड़ी बात

बता दें कि कोरोनावायरस के संक्रमण की रोकथाम के मददेनजर देशभर में मंगलवार की रात 12 बजे से अगले तीन सप्ताह तक पूर्ण लॉकडाउन रहेगा, लेकिन इस दौरान भी राशन, दूध, सब्जी, फल आदि मूलभूत जरूरत की चीजों की दुकानों के साथ-साथ, बैंक, बीमा कंपनियों के दफ्तर, एटीएम, प्रिंट एंव इलेक्ट्रानिक मीडिया के प्रतिष्ठान खुले रहेंगे.

प्रधानमंत्री ने मंगलवार को देशवासियों को संबोधित करते हुए देशभर में मध्यरात्रि से अगले 21 दिनों तक पूर्ण लॉकडाउन का एलान किया. पूर्ण लॉकडाउन के मददेनजर गृह मंत्रालय द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि लॉक डाउन के दौरान भारत सरकार, इसके स्वायत्त निकायों के दफ्तर समेत अधीनस्थ व सार्वजनिक क्षेत्र के तहत आने वाली कंपनियों के कार्यालय बंद रहेंगे.

वहीं गृह मंत्रालय के आदेश के अनुसार, अस्पताल और संबंधित चिकित्सा प्रतिष्ठानों जिनमें सरकारी एवं निजी विनिर्माण व वितरण इकाइयां शामिल हैं वे खुली रहेंगी. मतलब केमिस्ट की दुकानों से लेकर लैब, डिस्पेंसरी बंद नहीं हैं. रोगीवाहन सेवा भी जारी रहेगी और मेडिकल, पैरा मेडिकल व अस्पतलाओं के कर्मचारियों के लिए परिवहन को भी अनुमति है.

लॉकडाउन के दौरान देश में सभी प्रकार के वाणिज्यिक एवं निजी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे. लेकिन सार्वजनिक वितरण प्रणाली यानी पीडीएस के तहत संचालित राशन की दुकान समेत, खाद्य पदार्थ, किराने का सामान, फल-सब्जी की दुकानें, डेयरी, मिल्क-बूथ, गोश्त व मछली, पशुचारे की दुकानें खुली रहेंगी.हालांकि घर से बाहर लोगों का आवागमन कम करने के मददनजर जिला प्रशासन होम-डिलीवरी की सुविधा को प्रोत्साहन दे सकता है.

ये भी पढ़ें: EXCLUSIVE : अब तक की सबसे बड़ी Good News, आ गई कोरोना वायरस की दवा, अब होगा इसका काम तमाम

बैंक, एटीएम, बीमा कंपनियों के दफतर खुले रहेंगे. प्रिंट एवं इलेक्टरॉनिक मीडिया के प्रतिष्ठान खुले रहेंगे. दूरसंचार, इन्टरनेट सेवा, प्रसारण व केबल सेवाएं, आइटी और आईटी से संबंधित जो जरूरी सेवाएं हैं जितना भी संभव हो घरों से संचालित होंगी.

खादय पदार्थ, दवाइयां, चिकित्सा उपकरण समेत सभी आवश्यक वस्तुओं की डिलीवरी ई-कॉमर्स के माध्यम से होगी. पेट्रोल पंप, एलपीजी, पेट्रोलियम एवं गैस रिटेल आउटलेट एवं भंडार खुले रहेंगे.

First Published : 25 Mar 2020, 02:27:23 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×